जिनके अपने नेता ही महिलाओं के खिलाफ अपराध में संलिप्त तो वह सरकार महिलाओं को क्या सुरक्षा देगी…राकेश सिंघा

शिमला जनसंगठनों का जिलाउपायुक्त कार्यालय के बाहर जोरदार धरना प्रदर्शन ..की आरोपियों पर तुरंत कार्यवाही की मांग ….

0
269


https://youtu.be/wPbKt4jf1hM

हाथरस रेप व हत्या मामले के खिलाफ आज विभिन्न जन संगठनों ने शिमला जिला उपायुक्त के बाहर जोरदार धरना प्रदर्शन किया। महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा की मांग करते हुए प्रदर्शनकारियों ने आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग की है। प्रदर्शनकारियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ व यूपी की योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने सरकार पर दोषियों को बचाने का आरोप लगाया।

योगी सरकार मेंमहिलाओं के खिलाफ अपराधों में हुई वृद्धि:

माकपा नेता व विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि सरकार की कोई भी मंशा आरोपियों को सजा दिलाने की नहीं है। सरकार ने इस मामले में कदम उठाने में देर की है। उन्होंने कहा कि जब से यूपी में योगी सरकार बनी है तब से आज तक महिलाओं के खिलाफ अपराधों में 6% की वृद्धि हुई है। नेशनल क्राइम ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार यूपी सरकार में महिलाओं के उत्पीड़न के मामले में लगातार वृद्धि हो रही है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार यूपी में 16 वीं शताब्दी के मनु सिद्धांत अपना रही है जहां स्त्रियों और दलितों का कोई अस्तित्व नहीं था। सरकार संविधान के तहत नहीं मनुस्मृति के सिद्धांतों पर शासन चलाना चाहती है। ऐसे में लोकतंत्र को ताक पर रखा जा रहा है। राकेश सिंघा ने कहा कि सरकार के खुद के दो बड़े एमएलए आज महिलाओं के खिलाफ अपराधों में संलिप्त होने के कारण जेल में है। उन्होंने योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि जब उनके अपने नेता की महिलाओं के विरुद्ध अपराध में लिप्त है तो यह समाज में अन्य महिलाओं की सुरक्षा क्या करेंगे? उन्होंने योगी सरकार पर मनु सिद्धांत वादी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि युवती के बयान को बदल दिया गया और महज छेड़छाड़ का मामला बना दिया गया। उन्होंने कहा कि 22 सितंबर को ब्यान दर्ज होने के बावजूद भी सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया ।

महिला सुरक्षा के दावे पूरी तरह विफल:

वहीं अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति की राज्य सचिव फालमा चौहान ने कहा कि भाजपा सरकार ने चुनावों से पहले महिला और बेटियों की सुरक्षा के बड़े-बड़े दावे किए थे लेकिन आज वह कहीं भी दिखाई नहीं पड़ते हैं। समाज में महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों में लगातार वृद्धि हुई है। महिलाएं और बेटियां आज अपने आपको कहीं भी सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं। भाजपा सरकार के नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश सहित देश के अन्य भागों में महिलाओं और बेटियों के खिलाफ हिंसा बढ़ी है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग करते हुए कहा कि सरकार जल्द से जल्द दोषियों को फांसी की सजा दें। उन्होंने कहा कि पुलिस ने केस रजिस्टर करने में देर की है।उन्होंने यूपी सरकार से इस मामले में दोषी पुलिस अधिकारियों पर तुरंत कार्यवाही करने की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here