Uttarakhand : चमोली में ग्लेशियर फटने से ऋषिगंगा तपोवन पावर प्रोजेक्ट का बांध टूटा, भारी नुकसान की आशंका

0
237

glacier
  • एसडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंची।
  • सीएम टीएस रावत ने ट्विट कर दी सूचना।
  • हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट को भारी नुकसान।
  •  उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर के टूटने से बड़े पैमाने खतरे की आशंका मंडरा गया है। जानकारी के मुताबिक जहां पर ग्लेशियर टूटने से बड़े पैमाने पर पानी का बहाव सबकुछ को तबाह करता हुआ नीची आ रहा है। इसी क्षेत्र में ऋषिगंगा तपोवन हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट है। बताया गया है कि ग्लेशियर टूटने से बांध को बड़ा नुकसान हो सकता है। दो बांध टूटने की सूचना है। लेकिन इसकी अभी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हुई

चमोली में ग्लेशियर टूटने की सूचना मिलते ही एसडीआरएफ की टीमों को मौके के लिए रवाना कर दिया गया हैं। स्थानीय प्रशासन ने चमोली और आसपास के क्षेत्रों के लिए अलर्ट जारी कर दिया है।

उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का ट्विट कर बताया है कि ग्लेशियर टूटने की सूचना मिली है। उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का ट्विट कर बताया है कि ग्लेशियर टूटने की सूचना मिली है।

जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड के चमोली जिले के रैनी में ग्लेशियर फटने की सूचना है। ग्लेशियर फटने से धौली नदी में बाढ़ आ गई है। पानी जोशी मठ तक पहुंच गया है। पानी कुछ देर में कर्ण प्रयाग और रुद्र प्रयाग तक पहुंचने की सूचना है। इससे हरिद्वार तक खतरा बढ़ गया है। सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम मौके के लिए रवाना हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here