खांसी जुखाम होने पर हेल्पलाइन नं.104 या ई-संजीवनी ओपीडी का उठाए लाभ: स्वास्थ्य सचिव

कहा ..प्रदेश सरकार कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सभी आवश्यक निवारक एवं उपचारात्मक कदम उठा रही है

0
113

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण सचिव अमिताभ अवस्थी ने आज बताया कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए प्रदेश सरकार सभी आवश्यक निवारक और उपचारात्मक कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश में संक्रमण को लेकर जांच क्षमता बढ़ाई गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब तक 475263 मामलों की जांच की गई है जिनमें से 32197 मामलों की रिपोर्ट पाॅजिटिव पाई गई है। प्रदेश में पाॅजिटिव मामलों की दर 6.5 प्रतिशत है।

उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में त्यौहारों के दृष्टिगत कोविड-19 संक्रमण से बचने के लिए अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सतर्कता एवं सुरक्षा उपायों को दरकिनार करना कोरोना संक्रमण को न्यौता देना होगा। उन्होंने लोगों से रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए नियमित सुरक्षित व्यवहार को अपनाने और कोई भी लक्षण प्रकट होने पर भम्रित होने की आवश्यकता नहीं। उन्होंने घबराए बगैर कोविड-19 की जल्द से जल्द जांच सुनिश्चित करवाने का आग्रह किया ताकि संक्रमण की संभावनाओं को नियंत्रित किया जा सके और जांच रिपोर्ट पाॅजीटिव आने की स्थिति में स्वयं को आइसोलेट किया जा सके। उन्होंने कहा कि बुखार, खांसी, जुकाम या सांस की समस्या में हेल्पलाइन नम्बर 104 से संपर्क करने या ई-संजीवनी ओ.पी.डी. सेवा का लाभ उठाने के लिए कहा।

उन्होंने लोगों को केन्द्र सरकार द्वारा समय-समय पर जारी किए गए दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने को कहा। उन्होंने सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने, और घर से बाहर निकलते समय फेस मास्क और बार-बार हाथ धोने, नाक, आंख और मुंह को न छूने का आग्रह किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here