बरसों बाद बने पुल और अब उद्घाटन का कर रहे इंतज़ार

ढाई साल पहले मुख्यमंत्री ने किए थे शिलान्यास ,किसान सभा और ग्रामीणों ने पुलों पर की जल्दी यातायात बहाल करने की मांग

0
83



मंडी: मंडी जिला के धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत डरवाड़ में दशकों बाद निर्मित दो पूलों को लंबे समय से उदघाटन का इंतज़ार है। कारण यह है कि धर्मपुर के विधायक और प्रदेश के जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर को बीते 1 साल से इन पुलों के लोकार्पण का समय ही नहीं मिल पा रहा है। इन पुलों के अभाव में हजारों लोगों को मिलो लंबा सफर करने को मजबूर होना पड़ रहा है । साथ ही भारी परेशानियां उठानी पड़ रही है बावजूद इसके ना तो सरकार और ना ही मंत्री और ना ही विभाग लोगों की समस्याओं का निदान कर पाया है हैरानी बात की है कि डरबाड़ पंचायत के तहत निर्मित इन दोनों पुलों का शिलान्यास प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किया था । उन्होंने डरबाड़ में आयोजित जनसभा में उक्त पुलों को 1 साल के भीतर तैयार करके जनता को सौंपने का वादा भी किया था परंतु ढाई साल बीत जाने के बाद भी पुल पर यातायात बहाल करना तो दूर पूलों का उद्घाटन तक नहीं हो सका है। उससे भी बड़ी बात यह है कि तैयार पुलों पर जब लोगों ने वाहन चलाना शुरु कर दिए तो विभाग ने इनके दोनों सिरों पर पत्थर लगाकर यातायात भी बंद करवा दिया है। उधर, हिमाचल किसान सभा की पंचायत कमेटी ने डरवाड़ पंचायत के गांव गरली और तासली नाले पर निर्मित पुलों को यातयात के लिए बहाल करने की मांग की है। गौरतलब है कि इस पंचायत के गांव गरली और घरवासड़ा के बीच बजौरा नाले पर पुल का निर्माण कार्य एक वर्ष पूर्व पूर्ण हो चुका है और इसी प्रकार डरवाड़ गांव के तासली नाले पर पुल का निमार्ण छह महीने पहले पूरा हो चुका है लेकिन दोनों पुलों को मन्त्री द्धारा फीता काटने का इंतज़ार है। ये बात ज़िला पार्षद भूपेंद्र सिंह ने कही और ये आरोप लगाया कि तासली नाले पर पड़े पुल पर से तो कुछ दिन गाड़ियां चलना भी शुरू हो गई थी लेकिन बाद में दोनों तरफ़ विभाग द्धारा पत्थरों के ढेर लगाकर और बाड़ लगा कर गाड़ियों आवागमन बन्द कर दिया है कियूंकि अभी तक मन्त्री द्धारा इसका फीता नहीं काटा है।जबकि मन्त्री इन छह महीनों में कई बार यहाँ का दौरा कर चुके हैं। इसके अलावा अंसवाई से सरी के लिए बनने वाले पुल का कार्य गत तीन वर्षों में शुरू नहीं किया गया है जबकि चुनावों से पहले मन्त्री ने इसे छह महीनों में पूरा करने का वादा किया था लेकिन अब वे चुप्पी साधे हुए हैं।इसी प्रकार सजाओपीपलु से छतरैणा के लिए पुल का निर्माण कार्य भी शुरू नहीं किया गया है और डरवाड़ से छतरैणा के लिए बन रही सड़क गारला बस्ती के पास दो साल से उखड़ी हुई है जिसे विभाग पक्का नहीं करवा पा रहा है। 


बयान :

उधर, लोक निर्माण विभाग धर्मपुर के अधिशासी अभियंता जयपाल नायक ने कहा की बरसात के चलते इन पुलो की एप्रोच वालों का काम रुका पड़ा था। दूसरे पुल का काम ठेकेदार छोड़ चुका है। फ़ीलिंग और कंक्रीट को लेकर शीघ्र टेंडर जारी कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here