15,000 हेक्टेयर वन भूमि पर पौधा रोपण का लक्ष्य निर्धारित ..वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर

चंबा व चुराह वन मंडल के विकास कार्यों की समय- समय पर समीक्षा करने के दिए आदेश

0
212


 वन मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर ने आज वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चंबा व चुराह वन मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा की। इस अवसर पर गोविन्द सिंह ठाकुर ने भारत-चीन सीमा-विवाद में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि देश उनके बलिदान को हमेशा याद रखेगा।


गोविन्द सिंह ठाकुर ने कहा कि 2030 तक सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए इस वर्ष प्रदेश में गत वर्ष के 9,000 हेक्टेयर के मुकाबले 15,000 हेक्टेयर वन भूमि पर पौधा रोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि सामूदायिक वन संवर्द्धन योजना, विद्यार्थी वन मित्र योजना, वन समृद्धि-जन समृद्धि योजनाओं से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ा जाए और ‘एक बूटा बेटी के नाम योजना’ से लोगों को लाभन्वित किया जाए। वन मंत्री ने अधिकारियों को पुराने पौधों की जीवन्तता की समय-समय पर समीक्षा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वन रक्षकों को और अधिक हाईटेक बनाया जाए और वनों में अवैध कटान को रोकने के लिए ड्रोन से भी सहायता ली जाए। उन्होंने ने कहा कि विभाग के प्रयासों से चुराह वन मंडल में वर्तमान सरकार के कार्यकाल में वृक्षारोपण की जीवन्तता 80-90 प्रतिशत तक बढ़ी है।

वन मंत्री ने विभागीय अधिकारियों को इन क्षेत्रों में इको-टूरिजिम की संभावनाओं की तलाश कर एक विस्तृत योजना के तैयार करने के भी निर्देश दिए हैं।बैठक में प्रधान मुख्य अरण्यपाल वन विभाग अजय ठाकुर, वन मण्डल अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here