जनादेश को स्वीकारें कांग्रेस:जम्वाल

भारतीय जनता पार्टी समर्थित उम्मीदवारों पर अपना विश्वास प्रकट करने और भारी जनसमर्थन देने के लिए प्रदेश की जनता का किया धन्यवाद

0
138
प्रदेश महामंत्री त्रिलोक जम्वाल

भाजपा प्रदेश महामंत्री त्रिलोक जम्वाल ने कहा कि पंचायतीराज संस्थाओं के अंतिम चरण का मतदान आज सम्पन्न हो गया है। लोकतंत्र के इस महायज्ञ में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए भारतीय जनता पार्टी प्रदेश के सभी मतदाताओं का आभार व्यक्त करती है। उन्होनें भारतीय जनता पार्टी समर्थित उम्मीदवारों पर अपना विश्वास प्रकट करने और भारी जनसमर्थन देने के लिए प्रदेश की जनता का धन्यवाद व्यक्त किया है।
भाजपा नेता ने कहा कि इन पंचायतीराज चुनावों में मिली भारी हार से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूरी तरह से बौखला गए हैं और भाजपा एवं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की लोकप्रियता से डर गए हैं। उन्होंने कहा कि पंचायती राज चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने 75 प्रतिशत से ज्यादा सीटों पर अपना वर्चस्व स्थापित किया है जो प्रदेश की जनता का मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की सरकार पर विश्वास एवं लोकप्रियता को दर्शाता है। उन्होंने कहा की इन चुनावों में लोकतंत्र की विजय हुई है और जिस प्रकार कांग्रेस लोकतंत्र की हत्या के आरोप सरकार पर लगा रही है वह निंदनीय है जिससे यह स्पष्ट हो जाता है कि कांग्रेस पार्टी की लोकतंत्र में कोई आस्था नहीं है।

त्रिलोक जम्वाल ने कहा कि भाजपा एक सिद्धांतवादी राजनीतिक दल है, जिसकी नीव कार्यकर्ताओं द्वारा रखी गई है। यहां एक एक निर्णय कार्यकर्ताओं से विचार विमर्श करने के बाद ही लिया जाता है, कांग्रेस की तरह तुगलकी फरमान जारी नहीं किए जाते। उन्होंने कहा कि भाजपा विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक दल है और पूरे विश्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता अतुलनीय है और भारतवर्ष को विश्व में नई पहचान दिलाने के लिए आने वाली पीढि़या मोदी जी को हमेशा याद रखेगी।
उन्होंने कहा कांग्रेस नेता मनगढ़ंत कहानियां बनाकर जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। अच्छा होता कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मतदाताओं द्वारा भाजपा को दिए गए जनादेश को स्वीकार करते और एक जिम्मेदार पार्टी अध्यक्ष की भूमिका निभाते लेकिन कांग्रेस पार्टी अपनी हार स्वीकार करने के बजाए अब दबाव की राजनीति की बात कर रहे हैं जिससे वह जनता में हंसी के पात्र बन गए हैं।
उन्होंने कहा कि कांग्रेसी ऊना जिला में नगर निकायों में अपना खाता भी नहीं खोल पाई वहां भाजपा की 6 नगर निकाय बनी और कांग्रेस की शून्य। गौरतलब है कि ऊना कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष का गृह जिला है।
उन्होंने कहा कि जिला परिषद एवं ब्लाॅक समितियों के चुनाव परिणामो में भी कांग्रेस पार्टी भाजपा की प्रचंड लहर के आगे टिक नहीं पाएगी । जनता को कांग्रेस पार्टी का असली चेहरा पता है इसलिए आज कांग्रेस एक क्षेत्रीय दल से भी नीचे का दल बनाकर रह गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here