सिरमौर के ऊपरी क्षेत्रों में हिमपात, निचले इलाकों में झमाझम बरसे मेघ

बारिश से जिले में बढ़ी कंपकंपी, फसलों को मिली संजीवनी, किसान खुश

0
68

नाहन: ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी से जिला सिरमौर में शीतलहर बढ़ गई है। रविवार रात से जिले के ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी का दौर जारी है। चूड़धार, नौहराधार, हरिपुरधार आदि क्षेत्रों में हिमपात होने से निचले इलाकों में कंपकंपी बढ़ गई है। पूरा सिरमौर शीतलहर की चपेट में आ गया है। जिले के समतल इलाकों में भी जमकर बारिश हुई। बारिश व बर्फबारी के बाद किसान खुश नजर आ रहे हैं। लंबे समय बाद फसलों को संजीवनी मिली तो सूखी ठंड से भी लोगों को निजात मिली। पिछले लंबे समय से लोग इस बारिश का इंतजार कर रहे थे। तकरीबन ढाई से तीन माह के अंतराल के बाद सिरमौर में हिमपात व बारिश से लोगों ने राहत की सांस ली है। क्षेत्र में रविवार रात्रि से रुक-रुक कर बारिश व बर्फबारी का दौर जारी है। सोमवार को भी ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी हुई।

बता दें कि अभी तक किसान रबी की फसल की बिजाई का कार्य शुरू नहीं कर पाए थे। वहीं दूसरी नकदी फसलों को भी बिना बारिश के काफी नुकसान हुआ। इस बार मटर की फसल कम होने से दामों में भारी उछाल आया है। आलू का उत्पादन कम होने से भी दाम आसमान छू रहे हैं। मौजूदा समय में लहसुन, अदरक व अन्य नकदी फसलों के साथ-साथ सब्जियां पानी के बिना तरस रही थी। अब इन फसलों को संजीवनी मिली है। सिरमौर के 70 फीसदी किसान आज भी इंद्रदेव के रहमोकरम पर हैं। महज 30 फीसदी सिंचाई सुविधा उपलब्ध होने से अन्य किसानों को बिजाई के लेकर फसलों के तैयार होने तक बारिश पर ही निर्भर रहना पड़ता है। बहरहाल, सिरमौर में अच्छी बारिश के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here