सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक खुलेंगी दुकानें

रविवार को 11 बजे तक जरूरी वस्तुओं की बिक्री के बाद पूरे शहर को किया जाएगा सैनेटाइज

0
204

राजधानी शिमला में अब जल्द ही बाजार सुबह 10 से शाम 7 बजे तक खुले रहेंगे। इस संबंध में शिक्षा, विधि एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज शहर के व्यवसायियों के साथ बैठक की। शिमला नगर व इसके आस-पास के क्षेत्रों में बाजारों को खोलने तथा इस दौरान सामाजिक दूरी बनाए रखने व सैनेटाइजर सुविधाओं की सुनिश्चितता के लिए लोअर बाजार, राम बाजार व शिमला नगर के साथ लगते क्षेत्रों के व्यापारियों के साथ बैठक की गई। उन्होंने बताया कि व्यापार मंडल से प्राप्त सुझाव में शिमला के बाजारों में अब दुकानें प्रत्येक दिन सुबह 10 से शाम 7 बजे तक खोली जाएगी, जिसके लिए आदेश जल्द जिलादण्डाधिकारी द्वारा जारी कर दिए जाएंगे तथा अन्य प्रक्रियाओं के संबंध में भी जानकारी प्रदान की जाएगी।

उन्होंने बताया कि यह निर्णय व्यापार मंडल के सुझाव पर लिया गया है तथा चरणबद्ध रूप से विभिन्न व्यापारिक गतिविधियों को धीरे-धीरे खोला जाएगा। उन्होंने बताया कि रविवार के दिन सारा बाजार बंद रहेगा, जिसमें आवश्यक वस्तुओं की बिक्री सुबह 11 बजे तक की जाएगी, जिसके उपरांत नगर निगम द्वारा पूरे शहर को सैनेटाइज किया जाएगा।उन्होंने बताया कि दोनों तरफ की दुकानें खोलने से दुकानदारों को सामाजिक दूरी बनाए रखना एवं मास्क को पहनना अनिवार्य होगा तथा दुकानों में जितनी जगह लोगों के अंदर आने की है उसी हिसाब से दुकानदारों द्वारा दुकान के बाहर प्रदर्शित करना अनिवार्य है।

उन्होंने बताया कि बाजार में आने व जाने के लिए एक तरफा मार्ग उपयोग में लाया जाएगा ताकि सामाजिक दूरी बनी रहे। यदि बाजार में भीड़ बढ़ जाती है तो बाजार में लोगों की एंट्री को पुलिस के जवानों द्वारा बंद किया जाएगा। उन्होंने बताया कि धीरे-धीरे सभी गतिविधियों को शुरू किया जाएगा ताकि आर्थिकी को हुए नुकसान की भरपाई की जा सके।उन्होंने बताया कि सामाजिक दूरी व फेस मास्क इस महामारी के दौर में अति आवश्यक है तथा यह जिम्मेवारी दुकानदार खुद तय करें अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। समय के साथ-साथ हमें सारी चीजों को खोलने की आवश्यकता है, जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है इसलिए सारे एहतियात बरतना अति आवश्यक है।

उन्होंने बताया कि दुकानदार दुकानों के बाहर सामान को न रखें ताकि सामाजिक दूरी बनी रहे। उन्होंने बताया कि आर्थिक दृष्टि से पूरे देश में नुकसान हुआ है लेकिन अब हमें वायरस के साथ जीना सीखना पड़ेगा और धीरे-धीरे सभी गतिविधियों को शुरू करना पड़ेगा।उन्होंने बताया कि हमें मास्क का निरंतर प्रयोग करना है। आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा तथा बुजुर्ग, बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को घर पर ही रहने की हिदायत देनी है।इस अवसर पर उपस्थित उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने बताया कि शिमला व्यापार मंडल सिर्फ आर्थिकी के नुकसान का ही ध्यान न रखें बल्कि वायरस से मानवता को होने वाले नुकसान को भी ध्यान में रखें। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी व्यापार मण्डल द्वारा लाॅकडाउन के दौरान भरपूर सहयोग प्रदान किया गया तथा लोगों को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए विभिन्न संस्थाओं ने हर संभव सहायता प्रदान की।

पुलिस अधीक्षक शिमला ओमापति जम्वाल, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) प्रभा राजीव, एएसपी मनमोहन सिंह, सहायक आयुक्त उपायुक्त चंदन कपूर, उपमण्डलाधिकारी शहरी नीरज चांदला, पूर्व उप-महापौर राकेश शर्मा, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक श्रवण कुमार, गुरू सिंह सभा के अध्यक्ष व पार्षद जसविन्द्र सिंह, शिमला नगर व आस-पास के क्षेत्रों के व्यापार मण्डल के पदाधिकारी व सदस्य इस दौरान उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here