मादक द्रव्यों से दूरी के लिए योग अनिवार्य: सुनील शर्मा

0
206

Shimla's District Welfare Department celebrates international drug prevention day5
मादक द्रव्यों से दूरी बनाए रखने के लिए योग अनिवार्य व महत्वपूर्ण साधना है। अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (प्रोटोकॉल) सुनील शर्मा ने ‘अन्तर्राष्ट्रीय मादक द्रव्य निवारण दिवस’ के अवसर पर जिला कल्याण विभाग द्वारा बचत भवन में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए यह विचार व्यक्त किए। शर्मा ने कहा कि स्वस्थ शरीर जीवन की प्रत्येक चुनौतियों को स्वीकार करने की क्षमता रखता है। विभिन्न प्रकार के मादक द्रव्य शरीर के अतिरिक्त सामाजिक वातावरण को भी दूषित करते हैं।

उन्होंने कहा कि आज समाज को दुष्ट लोगों की सक्रियता से नहीं, बल्कि सज्जन लोगों की निष्क्रियता से बड़ी हानि हो रही है। उन्होंने समाज में पनप रही विभिन्न कुरितियों को दूर करने के लिए सामुहिक कर्तव्य निर्वहन पर बल दिया। उन्होंने स्कूली बच्चों द्वारा निकाली गई जागरूकता रैली को सीटीओ से हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया, जिसका समापन रिज मेदान के गेयटी उन्मुक्त मंच पर हुआ।

बचत भवन में उन्होंने मादक द्रव्य निवारण विषय पर आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए व रैली में शामिल छात्र-छात्राओं को मादक द्रव्य निवारण की शपथ भी दिलाई। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग जिला शिमला द्वारा आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता में 20 प्रतिभागियों ने भाग लिया, जिसमें राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पोर्टमोर की शीतल पठानिया प्रथम, चौड़ा मैदान के अश्वनी कुमार द्वितीय व लक्कड़-बाजार की रजनी ठाकुर तृतीय स्थान पर रही। प्रथम, द्वितीय व तृतीय विजेता को 1000 रुपये, 800 रुपये व 600 रुपये के नकद पुरस्कार प्रदान किए गए, जबकि इस प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को 150 रुपये प्रति छात्र प्रदान किए गए।

दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल के डॉ. सौरभ शर्मा ने बचत भवन में मादक द्रव्यों से शारीरिक हानियों और इनमें पाए जाने वाले जहरीले रसायनों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने लोगों को इसे छोड़ने के लिए अपनाए जाने वाले तरीकों तथा विशेष सलाहों के संबंध में भी अवगत करवाया।
सामाजिक संस्था ‘येस’ के सदस्यों द्वारा इस अवसर पर नुक्कड़-नाटक व डॉक्यूमेटरी फिल्म भी दिखाई गई। जिला कल्याण अधिकारी श्री ओंकार चंद ने इस अवसर पर सभी का स्वागत करते हुए कार्यक्रम की सफलता के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में शिमला नगर के स्कूलों के लगभग 120 बच्चों के अतिरिक्त नेहरू युवा केंद्र, राजकीय महाविद्यालय संजौली के छात्रों ने भी भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here