रामपुर एचपीएस द्वारा 322.0276 मिलियन यूनिट बिजली उत्पादन का सर्वश्रेष्ठ कीर्तिमान किया स्थापित

परियोजना प्रमुख मनोज कुमार ने इस उपलब्धि को बताया एक ऐतिहासिक पल ।

0
33


रामपुर बुशहर:

रामपुर बुशहर: वैश्विक महामारी कोविड-19 की विषम परिस्थितियों के बावजूद रामपुर एचपीएस ने गत वर्ष अगस्त 2019  की तुलना में अगस्त 2020 में 322.9182 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादन कर एक और कीर्तिमान स्थापित किया है। जब से परियोजना में विद्युत उत्पदान प्रारंभ हुआ तब से यह तृतीय सर्वश्रेष्ठ मासिक उत्पादन है जबकि जुलाई-2019 में 327.0276 मिलियन यूनिट और जुलाई-2020 में  333.6951 मिलियन यूनिट उत्पादन का सर्वश्रेष्ठ कीर्तिमान स्थापित कर चुकी है। परियोजना प्रमुख मनोज कुमार ने इस उपलब्धि को एक ऐतिहासिक पल बताया। उन्होंने परियोजना से जुड़े सभी लोगों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी और प्रबंधन वर्ग का आभार प्रकट किया ।

परियोजना प्रमुख ने कहा कि सभी के अथक प्रयासों से ही यह संभव हो पाया है जिसमें ओ एंड एम स्टाफ का महत्वपूर्ण योगदान रहा। कोविड-19 से विश्व के सभी देश जूझ रहे है, जिससे रामपुर जल विद्युत गृह भी अछूता नहीं है। लाकडाउन के दौरान विद्युत आपूर्ति में रामपुर जल विद्युत गृह ने बहुत अहम भूमिका निभाई। 05 अप्रैल, 2020 को प्रधानमंत्री के आग्रह पर पूरे देश में 09 मिनट के लिए बिजली से चलने वाले प्रकाश यंत्र बंद किये गए थे जिससे लगभग 32,000 मेगावाट बिजली की मांग में कमी आई। ग्रिड स्थिरता के लिए एसजेवीएन की दोनों परियोजनाओं रापमुर एचपीएस (412 मेगावाट) एवं एनजेएचपीएस (1500 मेगावाट) की भूमिका सराहनीय रही।
भारत सरकार ने कोविड-19 महामारी से बचाव हेतु महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। रामपुर जल विद्युत गृह अपने कार्य निष्पादन में समाजिक दूरी एवं पाली पद्धति का अनुपालन कर रहा है। सभी कर्मचारियों की सुरक्षा हेतु मास्क एवं सेनेटाइज़र का मुफ्त वितरण किया जा रहा है। कार्यस्थल, वाहन एवं आवासीय परिसर का सेनेटाइजेशन किया रहा है। जिला प्रशासन के आदेशानुसार कर्मचारियों को संगरोध किया जा रहा है। आरोग्य सेतु ऐप सभी कर्मचारियों को इस्तेमाल करने के निर्देश दिए गए हैं। सभी मुख्य द्वारों पर सेनेटाइज़र एवं थर्मल स्केनिंग की सेवाएं उपलब्ध हैं। वाहनों में भी समाजिक दूरी का ख्याल रख जा रहा है। विभिन्न स्थानों पर इस संक्रमण से बचाव हेतु उपायों के पोस्टर प्रकाशित किए गए हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here