राजनीति के चक्कर में राहुल गांधी फिर कर गए ‘गलती’, अनुराग ठाकुर ने पूरे ‘सबूत’ के साथ किया बेनकाब

0
257

बुधवार को कांग्रेसी नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी पुडुचेरी पहंचे थे। यहां उन्होंने मछुआरा समुदाय के साथ बातचीत की। बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि, “केंद्र सरकार ने किसानों के खिलाफ 3 कृषि बिल पास किए हैं जिससे किसान काफी परेशान हो रहे हैं। सभी जानते हैं कि किसान देश की रीढ़ हैं। अब आप सोच रहे होंगे मैं आपसे ये बाते क्यों कर रहा हूं? क्योंकि मैं आपको समुद्र का किसान मानता हूं।” वहीं राहुल गांधी ने इसी वार्ता में लोगों से कहा कि, “अगर जमीन पर खेती करने वाले किसानों का दिल्‍ली में मंत्रालय हो सकता है तो समुद्र के किसानों का क्‍यों नहीं हो सकता।” राहुल गांधी की इसी बात को लेकर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने अपने एक ट्वीट में उन्हें जवाब देते हुए उनकी गलती को उजागर किया। दरअसल राहुल गांधी ने पुडुचेरी में लोगों से कहा कि, आखिर दिल्ली में समुद्र के किसानों का मंत्रालय क्‍यों नहीं हो सकता?

ADVERTISEMENT
श्री @RahulGandhi जी..

ये मिनिस्ट्री है 👉🏻 @FisheriesGoI

ये मिनिस्टर हैं 👉🏻 @girirajsinghbjp

और ये फिर एक बार,
झूठ की राजनीति के चक्कर में,@INCIndia ‘पार्टी’ की किरकिरी हो रही है 👇🏼 pic.twitter.com/s079SoP9Kf

— Anurag Thakur (@ianuragthakur) February 17, 2021

वहीं अनुराग ठाकुर के अलावा बेगुसराय से भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इटालियन भाषा में ट्वीट करते हुए राहुल गांधी को लेकर लिखा, ईटली में मत्स्य पालन का कोई अलग मंत्रालय नहीं है। वहां यह कृषि और वानिकी मंत्रालय के अंतर्गत आता है। वहीं, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी इटालियन भाषा में ट्वीट करते हुए लिखा, वे केवल एक ही बात जानते हैं। झूठ, भय और गलत सूचना फैलाना।

राहुल जी ! आपको इतना तो पता ही होना चाहिए कि 31 मई,2019 को ही मोदी जी ने नया मंत्रालय बना दिया।
और 20050 Cr रुपए की महायोजना (PMMSY) शुरू की जो आज़ादी से लेकर 2014 के केन्द्र सरकार के खर्च (3682 cr) से कई गुना ज़्यादा है। https://t.co/eV39avbeDt

— Shandilya Giriraj Singh (@girirajsinghbjp) February 17, 2021

गिरिराज सिंह ने कहा कि, “राहुल जी ! आपको इतना तो पता ही होना चाहिए कि 31 मई,2019 को ही मोदी जी ने नया मंत्रालय बना दिया। और 20050 Cr रुपए की महायोजना (PMMSY) शुरू की जो आज़ादी से लेकर 2014 के केन्द्र सरकार के खर्च (3682 cr) से कई गुना ज़्यादा है।”

राहुल जी!
मेरा आपसे अनुरोध है कि आप नए मत्स्यपालन मंत्रालय में आएँ या मुझे जहाँ बुलाएँ,मैं आ जाता हूँ। मैं आपको नए फ़िशरी मंत्रालय के द्वारा पूरे देश तथा पुदुच्चेरी में चलाए जा रहे योजनाओं के बारे में बताता हूँ। https://t.co/eV39avbeDt

— Shandilya Giriraj Singh (@girirajsinghbjp) February 17, 2021

वहीं एक और ट्वीट में गिरिराज सिंह ने लिखा कि, “राहुल जी! मेरा आपसे अनुरोध है कि आप नए मत्स्यपालन मंत्रालय में आएँ या मुझे जहाँ बुलाएँ,मैं आ जाता हूँ। मैं आपको नए फ़िशरी मंत्रालय के द्वारा पूरे देश तथा पुदुच्चेरी में चलाए जा रहे योजनाओं के बारे में बताता हूँ।”

लोगों के आए ऐसे रिएक्शन..

ढ़ाई साल हो गए राजस्थान, छत्तीसगढ़ के कांग्रेस को चुनने वाले बेरोजगारो से पूछना था ?

कलेक्टर बन गए या अभी भी भैंस चरा रहे हो?
🤣

— B.s.Ranawat Gendliya (@RanawaBhanwar) February 17, 2021

“कुछ लोग सदन में भी कम रहते हैं और देश में भी….
उसका यही खामियाजा है!!!”
😂😂😂https://t.co/1wHJIoiGvT

— Kunal Thakur (@kunalthakur2020) February 17, 2021

Desh me kya ho raha hai isse unko koi matlab nahi hai bus andolan karna hai aur Loksabha me sona hai bus..

— PRAVIN SINGH (@praveennippon) February 17, 2021

आपके ट्वीट में ही दोष है! क्या मतलब आपका को @RahulGandhi को पता होना चाहिए! अगर पता ही रखने लगे राहुल बाबा तो चमचो के आदर्श कैसे बने रहेंगे और हमे कंटेंट कैसे देंगे!!

— RahulHunBCPappuNhi (@OkTataBByeKhtm) February 17, 2021

गिरिराज जी, रहने दीजिए, इस 51 साल के बालक को कुछ फर्क नहीं पड़ता। इसको बस अपनी राजनीति चमकानी है।

— manish (@manishadvani1) February 17, 2021

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here