ठियोग पंचायत समिति की त्रैमासिक बैठक में उठे जनहित के मुद्दे

0
152

खाची आदि ने अपने वार्डों में पेयजल व संजीव वर्मा ने अपने वार्ड में बिजली की तारो कें पेड़ों से लटके होने का मामला उठाकर इन समस्याओं को हल की मांग अधिकारियों से की। बैठक में किसानों से मंडियों में काट काठियोग पंचायत समिति की बैठक बुधवार को समिति हॉल ठियोग में अध्यक्ष मदन लाल वर्मा की अध्यक्षता में आयोजित की गई जिसमें पिछले एक सप्ताह से ठियोग क्षेत्र में ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान के मुआवजे, पंचायतों में पेयजल व बिजली समस्या सहित जनहित से जुड़े कई मामले सदस्यों न उठाए। बैठक में उपाध्यक्ष किरपाराम, विकास खंड अधिकारी नीरज चांदला, विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे। बैठक में प्रस्ताव पारित कर केन्द्र सरकार द्वारा स्वीकृत छैला सैंज ओच्छघाट राष्ट्रीय राजमार्ग को नारकंडा से शुरू करने की मांग की गई। अध्यक्ष ने बताया कि यह प्रस्ताव सांसद वीरेन्द्र कश्यप के माध्यम से केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री को भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि नारकंडा से छैला सड़क का निर्माण 1978 से प्रस्तावित है और इसके लिए लोगों को भूमि का मुआवजा भी दिया जा चुका है।

ठियोग की कई सड़कों जिनमें शिलारू रावग, जई पलाणा आदि को उनके गंतव्यों तक पूरा बनाने संबन्धि प्रस्ताव भी पारित कर लोकनिर्माण विभाग को भेजने का निर्णय बैठक में हुआ। बैठक में सदस्यों लोकेन्द्र चंदेल, महेन्द्र खाची, सुरेन्द्रा टे जाने का मामला उठाया गया और एपीएमसी से इसे लेकर तुरंत कारवाई की मांग की गई। सदस्यों ने इसके अलावा भी जनहित के कई मामलों को बैठक में उठाया जिसपर संबधित विभागों के अधिकारियों ने मौके पर संज्ञान लिया । आईपीएच अधिकारियों ने स्टॉफ की कमी बताते हुए अपनी मजबूरी जताई जिसपर समिति ने आईपीएच मंत्री को ठियोग क्षेत्र में विभाग में पर्याप्त स्टॉफ भर्ती करने संबन्धि प्रस्ताव भेजने पर सहमित जताई। खंड विकास अधिकारी ने इस मौके पर सदस्यों से अपनी समस्याओं को लेकर बैठक से पूर्व नोटिस देने का आग्रह किया ताकि विभागीय अधिकारियों को समय दिया जा सके। उन्होंने सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में भी समिति सदस्यों को जानकारी दी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here