कोरोना जंग में योगदान देने के लिए पुकिसकर्मी सम्मानित

नृत्याजंली सामाजिक संस्था और एम्पायर मॉडल्स ने स्मृति चिन्ह देकर किया सम्मानित

0
604

कोरोना वैश्विक महामारी में जब आम जनता कोरोना संक्रमण से बचने के लिए अपने घरों में सुरक्षित थी उस समय पुलिस कर्मी अपनी जान की परवाह किए बगैर मैदान में डटे रहे। समाज में कानून व्यवस्था बनी रहे और लोगों को सुरक्षित वातावरण मिले,इस बात के लिए हिमाचल पुलिस के जवान तत्पर थे। उनकी इस कर्मठता और सेवा भाव को देखते हुए आज सामाजिक संस्था नृत्याजंली और एंपायर मॉडल्स द्वारा सम्मानित किया गया। मॉल रॉड शिमला रिपोर्टिंग रूम के सामने पुलिस जवानों को कोरोना काल में उनके सराहनीय योगदान के लिए स्मृति चिन्ह देकर उन्हें सम्मानित किया गया। इस मौके पर मौजूद शिमला एएसपी सुशील शर्मा ने जवानों को समृति चिन्ह दिए।

एएसपी सुशील शर्मा ने कहा कि कोरोना वारियर्स का मनोबल बढ़ाने के लिए सामाजिक संस्थाओं द्वारा पुलिस के जवानों को सम्मानित किया गया है। उन्होंने कहा कि इन सामाजिक संस्थाओं द्वारा संक्रमण रोकने में सहयोग देने वाले पुलिस के जवानों को सम्मानित करना सराहनीय कदम है। इससे कोरोना की जंग में लड़ने वाले पुलिस के जवानों का मनोबल मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ने वाला हर व्यक्ति ,हर कर्मचारी कोरोना वारियर है। उन्होंने जिला पुलिस प्रशासन की ओर से नृत्याजंली सामाजिक संस्था और एम्पायर मॉडल्स का धन्यवाद किया।

वहीं एम्पायर मॉडल्स की अध्यक्ष अदिति भारद्वज ने कहा कि बॉर्डर खुलने से प्रदेश में संक्रमण की संभावनाएं बढ़ गई हैं और ऐसे में पुलिसकर्मियों की जिम्मेदारियां भी बढ़ गई हैं और उनके सहयोग के बिना लोगों में कोरोना के दिशानिर्देशों की अनुपालना करवाना संभव नहीं है। नृत्याजंली सामाजिक संस्था के अध्यक्ष हिमांशु कुमरा का कहना है कि कोरोना काल में पुलिसकर्मी कोरोना योद्धा बनकर जनता की सुविधाओं का ख्याल रखते रहे। उनके द्वारा लोगों को दवा से लेकर अन्य चीजें तक मुहैया करवाने का कार्य सराहनीय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here