लापरवाही : कोरोना संक्रमित ने सुंदरनगर में करवाया डायलिसिस

डायलिसिस सेंटर के डाक्टर सहित 5 स्टाफ हुए क्वारंटीन

0
220

सुंदरनगर : हिमाचल प्रदेश में लगातार बढ़ते कोरोना बढ़ते मामले सरकार और प्रशासन के लिए चिंता का विषय बनते जा रहे हैं इसी बीच में कोरोना को लेकर लगातार लापरवाही भी देखने को मिल रही हैं ऐसे ही एक लापरवाही सुंदरनगर में सामने आई है ताजा घटनाक्रम में सुंदरनगर के चतरोखड़ी क्षेत्र से पाजिटिव आए व्यक्ति ने क्षेत्र के लोगों में हड़कंप मचा दिया है। मामले में कोरोना संक्रमित व्यक्ति द्वारा सिविल अस्पताल सुंदरनगर में रेडक्रॉस सोसायटी के तत्वावधान में राही केयर द्वारा चलाए जा रहे डायलिसिस सेंटर में अपना डायलिसिस करवाया था। लेकिन व्यक्ति के कोरोना संक्रमित आने के बाद भी इस डायलिसिस सेंटर के स्टाफ को प्राइमरी कांटेक्ट में आने के बावजूद पिछले कल शाम के समय क्वारंटीन किया गया। हैरानी की बात यह है कि डायलिसिस करवाने वाले मरीज के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी होने के बावजूद बीते कल इसी स्टाफ से अन्य मरीजों का डायलिसिस करवाया गया। इससे अब अन्य मरीजों के स्वास्थ्य को लेकर रेडक्रॉस सोसायटी और राही केयर की कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान खड़े हो गए हैं।

बता दें कि सुंदरनगर शहर से आए इस कोरोना संक्रमित मरीज की कांटेक्ट हिस्ट्री में कुल 29 लोगों को होम क्वारंटीन कर दिया गया है। वहीं प्रारंभिक सेंपलिंग के आधार पर कोरोना संक्रमित व्यक्ति की पत्नी भी कोविड-19 पाजिटिव पाई गई है। इसके अलावा सिविल अस्पताल सुंदरनगर में जिला रेडक्रॉस सोसायटी के तत्वावधान में राही केयर द्वारा चलाए जा रहे डायलिसिस सेंटर के डाक्टर सहित कुल 5 कर्मचारियों को भी होम क्वारंटीन कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार जिला रेडक्रॉस सोसायटी के द्वारा चलाए गए इस डायलिसिस सेंटर में बीते 10 अगस्त को कोरोना संक्रमित का डायलिसिस किया गया था। मरीज पहले भी रेगुलर तौर पर इस सेंटर में अपना डायलिसिस करवाता था और तबयीत बिगड़ने पर एमरजेंसी में डायलिसिस करवाने आया था। मरीज को डायलिसिस के समय सांस लेने में दिक्कत आ रही थी और सेंटर में तैैैनात स्टाफ के द्वारा उनका डायलिसिस किया गया था।

डायलिसिस सेंटर के डाक्टर सहित 5 स्टाफ हुए क्वारंटीन:

मामले में डायलिसिस करवाने वाला व्यक्ति 13 अगस्त को कोविड-19 पाजिटिव आया है। इसके उपरांत प्रशासन द्वारा एतिहातन तौर पर डायलिसिस सेंटर के एक डाक्टर व टेक्नीशियन 2 स्टाफ नर्स और एक सफाई कर्मचारी सहित कुल 5 कर्मचारियों को होम क्वारंटीन कर दिया गया है। इन सभी कर्मचारियों का कोरोना संक्रमित के प्राइमरी कांटेक्ट में होने के कारण स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना सेंपल भी ले लिए गए है। सेंपलों की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

बयान :

मामले को लेकर एसडीएम सुंदरनगर राहुल चौहान ने कहा कि सुंदरनगर के शहर के में आई कोरोना संक्रमित पति व पत्नी के कांटेक्ट में 29 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। उन्होंने कहा कि सिविल अस्पताल में मौजूद डायलिसिस यूनिट के 5 कर्मियों को भी क्वारंटीन कर कोविड-19 सेंपल लिए गए हैं। राहुल चौहान ने कहा कि डायलिसिस यूनिट के कर्मियों का कोरोना पाजिटिव की कांटेक्ट हिस्ट्री में आने का पता बाद में चला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here