प्री-नर्सरी की शुरुआत करने वाले नरेश ठाकुर को किया जाएगा शिक्षक दिवस पर सम्मानित

सिरमौर से अकेले शिक्षक जिन्हें राज्यस्तरीय पुरस्कार के लिए चुना गया है

0
106

नाहन: जिला सिरमौर के दुर्गम क्षेत्र हरिपुरधार में शिक्षा को शिखर की ओर ले जाने वाले जेबीटी अध्यापक नरेश ठाकुर को शिक्षक दिवस पर राज्यस्तरीय पुरस्कार से नवाजा जाएगा। इस बार वह जिला सिरमौर से अकेले शिक्षक हैं, जिन्हें राज्यस्तरीय पुरस्कार के लिए चुना गया है। आपको बता दें कि प्राथमिक पाठशाला हरिपुरधार में बतौर केंद्रीय मुख्य शिक्षक के पद पर कार्यरत नरेश ठाकुर ने अपनी पाठशाला में कुछ हटकर कर दिखाया है। वह प्राथमिक शिक्षक संघ सिरमौर के जिला अध्यक्ष भी हैं।

प्री-नर्सरी कक्षाओं की शुरुआत की:

नरेश ठाकुर ने अपनी पाठशाला में सबसे पहले 2015 में प्री-नर्सरी कक्षाओं की शुरुआत की और इसे सफल बनाया जबकि, सरकार ने भी इसके बाद ही प्रदेश में प्री नर्सरी को शुरू किया। यही नहीं इस पाठशाला की प्रार्थना सभा भी और स्कूलों से हटकर है। यहां बच्चों की हर रोज नई-नई गतिविधियां आयोजित की जाती हैं। जहां निजी स्कूलों की देखादेखी सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या घट रही है, वहीं नरेश ठाकुर ने अपने स्कूल में बच्चों की संख्या में भारी इजाफा कर 80 से 204 पहुंचाया। आज हर कोई उनके स्कूल में दाखिला लेना चाहता है। विभाग ने उनके शिक्षा के क्षेत्र में किए गए बेहतरीन कार्यों व  दुर्गम क्षेत्र में गुणात्मक शिक्षा की अलख जगाने के लिए पुरस्कार से लिया चुना है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here