मोहन केस्टा हिमाचल शिक्षा समिति अध्यक्ष पद पर नियुक्त

साधारण सभा में समिति की नई कार्यकारिणी गठित

0
123

शिमला: हिमाचल शिक्षा समिति, शिमला द्वारा नई कार्यकारिणी का गठन किया गया है। चुनाव अधिकारी दिलीप सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित साधारण सभा की बैठक में अध्यक्ष पद पर मोहन केस्टा नियुक्त किए गए। संरक्षक गुलाब सिंह मैहता और बलवीर नारटा द्वारा संस्तुति की गई जिससे समिति सदस्यों द्वारा स्वीकार करते हुए अध्यक्ष पद के लिए मोहन केस्टा को चुना गया।

मोहन केस्टा के नेतृत्व में समिति के अन्य पदाधिकारियों का भी चुनाव किया गया। वरिष्ठ उपाध्यक्ष जिला कुल्लू के भागेश्वर शर्मा, उपाध्यक्ष बिलासपुर के डाॅ. प्रेमलाल शर्मा और ऊना के डाॅ. खेमराज शर्मा को चुना गया। इसी तरह सुन्नी से दिलाराम चैहान को महासचिव, नालागढ़ के नवीन रावत, शिमला की डाॅ. अनीता शर्मा, मण्डी के चांद सिंह को सह सचिव चुना गया। शिमला के मनोज कपूर को कोषाध्यक्ष, सुन्नी के ओमप्रकाश शर्मा को सह-कोषाध्यक्ष, संगठन मंत्री शिमला से तिलकराज शमा को चुना गया। शिमला से दिलीप ठाकुर, बिलासपुर के अरूणा शर्मा, चिन्तपूर्णी से कुसूम, करसोग से लज्जा शर्मा, हमीरपुर से सुनिधि, चम्बा से किशोरी लाल, कुमारसैन से प्रीतम सेठी, सुन्नी से मनोज कुमार, नेरवा से बलवंत रावत, पनगां कुल्लू से धर्म सिंह ठाकुर, धुमारवीं से डाॅ. नौलखा सिंह चन्देल, करसोग से बृजलाल भारद्वाज, सुन्नी से यादवेन्द्र शर्मा, सिरमौर से केवल शर्मा, कोठी कुल्लू से चमन ठाकुर, रायपुर सहोड़ां ऊना से सुखदेव शर्मा, शिमला से कुशल कुमार शर्मा, हमीरपुर से डाॅ. विमल शर्मा, धर्मशाला डाॅ. बृहस्पति मिश्र, धर्मशाला से डाॅ. पंकज कुमार, कांगड़ा से ज्ञान पावुच, शिमला से हेमन्त वैद और शिमला से ही राजेंद्र ठाकुर को सदस्य चुना गया है। इसके अलावा संरक्षण पद के लिए घुमारवीं से अच्छर सिंह ठाकुर, आनी से डाॅ. गुलाब सिंह मैहता और भूमति जिला सोलन से देवीरूप शर्मा का चयन किया गया है।

शिक्षा के क्षेत्र को नई दिशा देना समिति का ध्येय:

साधारण सभा को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय संगठन मंत्री विजय कुमार नड्डा ने कहा कि समिति का कार्य केवल विद्यालय चलाना नहीं है बल्कि शिक्षा के क्षेत्र में परिवर्तन लाना है तथा शिक्षा के क्षेत्र को नई दिशा देना है। क्षेत्रीय सह संगठन मंत्री बाल किशन ने कार्यकत्र्ताओं को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संध के 2025 में आयोजित होने वाले शताब्दी वर्ष में वृक्षारोपण, साक्षरता, पल्स पोलियो, समग्र स्वच्छता, जल संरक्षण, जैविक खेती, योग जैसे विषयों पर छात्रों व अभिभावकों के सहयोग से जनजागरण अभियान चलाने का विचार रखा। वहीं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत कार्यवाह किस्मत कुमार ने कहा कि कार्यकत्र्ताओं के विकास के लिए समय-समय पर प्रोत्साहन तथा क्षमता विकास के लिए वर्गों का आयोजन होना चाहिए।

दो दिवसीय बैठक में उपस्थित रहे 70 प्रतिनिधि:

इस अवसर पर विद्याभारती उत्तर क्षेत्र के महामंत्री देशराज शर्मा, प्रचार प्रमुख राजेंद्र कुमार, प्रांत के संगठन मंत्री तिलकराज शर्मा भी उपस्थित रहे। बैठक में 39 प्रतिनिधि ऑफलाईन और 31 प्रतिनिधि ऑनलाईन उपस्थित रहे। समिति सदस्यों द्वारा कोरोना काल में बच्चों की पढ़ाई, परीक्षा, संस्कारात्मक पक्ष को और सुदृढ़ करने, जनजातीय क्षेत्रों में कार्य बढ़ाने, छात्रों को बेहतर सुविधायें देने और कौशल विकास प्रकल्प आदि विषयों पर दो दिन को विस्तृत चर्चा की गई।

छात्रा वाणी गौत्तम को किया सम्मानित:

इस मौके पर हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा मार्च 2020 में दसवीं कक्षा की परीक्षा में सरस्वती विद्या मंदिर घुमारवीं, जिला बिलासपुर की छात्रा वाणी गौत्तम को प्रदेश मैरिट में 9वां स्थान प्राप्त करने पर नकद पुरस्कार व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here