गंगा जल के समान ही पवित्र ब्यास का पानी ..राकेश जम्वाल

सुंदरनगर में जायका प्रोजेक्ट के अंतर्गत पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हुए विधायक राकेश जम्वाल, पूर्व विधायक सोहन ठाकुर पर किया जम कर प्रहार, पूछा ..बताएं उनके कार्यकाल में कितना हुआ क्षेत्र का विकास

0
1020

सुंदरनगर : शुक्रवार को सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत चुरड़ के गांव ठलगधार में वन मंडल सुंदरनगर सुकेत द्वारा जायका प्रोजेक्ट के अंतर्गत पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें सुंदरनगर के विधायक राकेश जमवाल ने मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत की और पौधारोपण किया।इस अवसर पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए विधायक राकेश जम्वाल ने पूर्व विधायक सोहन लाल ठाकुर पर जुबानी हमला किया। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक बताएं कि उन्होंने अपने कार्यकाल में सुंदरनगर के लिए कितना विकास कार्य किया है कि अब इस तरह से सुंदरनगर में हो रहे विकास कार्य के ऊपर अंगुलियां उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक को विकास रास नहीं आ रहा है और आए दिन नुक्ताचीनी करने में लगे हुए हैं।

उन्होंने कहा कि 25 करोड रुपए की उठाऊ पेयजल योजना का काम युद्ध स्तर पर चला हुआ है। उसके ऊपर पूर्व विधायक की टीका टिप्पणी दुर्भाग्यपूर्ण है उन्होंने कहा कि जिस तरह से गंगा का पानी मैला नहीं हो सकता उसी प्रकार व्यास का पानी मैला नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि सुंदरनगर शहर को बीएसएल जलाशय के स्वच्छ पानी मुहैया करवाकर अब 24 घंटे पानी उपलब्ध करवाया जाएगा।


उन्होंने कहा कि सुंदरनगर में नेशनल हाईवे पर ट्रैफिक व्यवस्था को धयान में रखते हुए डिवाइड लगाए गए हैं। उसके ऊपर भी सवाल करना पूर्व विधायक को शोभा नहीं देता है जम्वाल ने सवाल किया कि उन्होंने अपने कार्यकाल में विकास करवाना तो दूर जो भाजपा सरकार ने प्रोजेक्ट मंजूर करवाए थे उनके ऊपर भी 1 इंच काम नहीं किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक के होटल के सामने ही जो सुकेत कैफे बीजेपी के पूर्व विधायक रूप सिंह ठाकुर ने इसका शिलान्यास किया था। पर्यटन विभाग के भवन में और दूसरा ही दफ्तर चलाए रखा। लेकिन जयराम ठाकुर की सरकार आते ही वहां पर सुकेत कैफे के नाम से रेस्टोरेंट्स स्थापित किया। उन्होंने कहा कि इस कोरोना महामारी के दौर में भी विकास कार्य में कोई भी आर्थिक तंगी नहीं आएगी। जहां जहां से भी विकास कार्य की डिमांड लोगों की आएगी। जयराम ठाकुर की सरकार द्वारा निरंतर विकास करवाया जायेगा है। क्योंकि गंगा जैसी पवित्र नदी मैं भी कई नदी नाले समाहित होते हैं। लेकिन आज तक तो गंगा का पानी अपवित्र नहीं हुआ। तो ब्यास नदी का पानी भी कैसे आपवित्र और गंदा हो सकता है । उन्होंने कहा कि धार्मिक आस्था के साथ इस तरह से बयान बाजी कर के लोगों को भ्रमित करना पूर्व विधायक को शोभा नहीं देता है। उन्होंने आम जनता से आह्वान किया है कि इस महामारी के दौर में लोग मास्क लगाए रखें और सामाजिक दूरी नियम का अनुसरण करें बार-बार हाथों को धोएं और अपना बचाव खुद करें । उन्होंने कहा कि प्रदेश में 95 फीसदी केस ऐसे आए हैं। जिनमें इस महामारी के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं और लोग स्वस्थ हुए हैं। उन्होंने कहा कि घबराएं नहीं बस नियमों का पालन करें और अपने अपने घर में रहें सुरक्षित रहें और अनावश्यक आवाजाही से परहेज करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here