मंत्री एवं तेजतर्रार नेत्री श्यामा शर्मा का चंडीगढ़ में निधन

लंग्स के इंफेक्शन की शिकायत के चलते मेडिकल कालेज नाहन से किया था चंडीगढ़ रेफर

0
145

नाहन: पूर्व मंत्री एवं तेजतर्रार नेत्री रहीं श्यामा शर्मा का आक्समिक निधन हो गया है। 70 वर्ष की श्यामा शर्मा ने पंचकूला के एक निजी अस्पताल में दम तोड़ा। उनके निधन की खबर से पूरे सिरमौर में शोक की लहर छा गई है। श्यामा शर्मा के अचानक बीमार होने के बाद उन्हें मेडिकल कालेज नाहन लाया गया था। आज सुबह ही तकरीबन साढ़े 9 बजे उनकी तबीयत ज्यादा खराब होने के बाद उन्हें चंडीगढ़ रेफर कर दिया। पंचकूला अस्पताल पहुंचते ही उन्हें डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

जानकारी के अनुसार उन्हें लंगस में इंफेक्शन हो गया था। उन्हें सांस की तकलीफ भी हो गई थी। इन्फेक्शन के चलते उनकी हालत लगातार बिगड़ती चल गई और सोमवार को हिमाचल ने एक तेज तर्रार नेत्री को खो दिया। भले ही वह लंबे समय से राजनीति से काफी दूर थीं, लेकिन हिमाचल की राजनीति में आज भी वह बड़ा नाम थीं। साल 1948 में नाहन विधानसभा के अंतिम गांव सरोगा टिक्कर में जन्मी श्यामा शर्मा तीन बार विधायक रही। इसके अलावा वह एक बार राज्य मंत्री व एक बार राज्य प्लानिंग बोर्ड की चेयरमैन भी रहीं। 1977 में वह पहली बार विधायक बनी। इसके बाद वह मंत्री पद पर भी आसीन रहीं। साल 1982 में वह दूसरी बार विधायक बनी। जबकि, तीसरी बार 1990 में दोबारा विधायक बनीं। उधर, मेडिकल कालेज नाहन के एमएस डा. एनके भारद्वाज ने बताया कि श्यामा शर्मा को मेडिकल कालेज नाहन से रेफर किया गया था। उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ में उनके निधन की सूचना मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here