प्रवासी मजदूर न करें पलायन,जल्द खुलेंगे रोजगार के अवसर

0
281

 डीजीपी एस.आर मरडी अपने वीडियो संदेश के जरिए प्रवासी मजदूरों से प्रदेश छोड़कर न जाने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जल्द ही आर्थिक व अन्य गतिविधियां शुरू होने जा रही हैं। इससे उनके रोजगार के अवसर खुलेंगे और अगर जाना ही चाहते है तो पैदल ना जाएं। प्रदेश सरकार द्वारा की जा रही व्यवस्थाओं के तहत ही जाएं। 
उन्होंने कहा कि हिमाचल में कोरोना संक्रमण के 80 मामले हैं और 33 केस एक्टिव हैं। भारत में कोरोना  मामलों की संख्या 96 हजार के करीब पहुंच गई है। 24 घंटे में 5200 मामले बढ़े हैं। 3 हजार से ज्यादा मौतें हुई हैं। सुखद पहलू यह है कि भारत में ठीक होने की दर 38 प्रतिशत है जो कि संतोषजनक स्तिथि है।  उन्होंने कहा कि लगातार मामलें बढ़ने के कारण हमें  और अधिक सतर्क रहने की जरूरत है।डीजीपी मरडी ने कहा कि भारत सरकार ने 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाया है। इस दौरान एयर सर्विस, मेट्रो, होटल व मॉल बंद रहेंगे। रेस्टोरेंट,ढाबों में होम डिलीवरी या टेकवे व्यवस्था लागू की गई है। इसके अलावा धार्मिक गतिविधियां व कल्ब आदि भी बंद रहेंगे। साथ ही उन्होंने 65 वर्ष से ऊपर वरिष्ठ नागरिकों, गर्भवती महिलाएं और दस साल से नीचे बच्चों को विशेष रूप से उन्होंने घर से बाहर निकलने के लिए मना किया। साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमितों के अंतिम संस्कार के समय भी विशेष सावधानियां बरते। इसके अलावा डीजीपी ने लोगों से बैंक ना जाकर ई -बैंकिंग प्रक्रिया अपनाने की अपील की है। उन्होंने लोगों से बिजली और पानी के बिल का भी ऑनलाइन भुगतान करने का आग्रह किया। 


उल्लंघन ने करें:


डीजीपी एस.आर मरडी ने कहा कि लोग अभी भी कानून का उल्लंघन कर रहे हैं और अब ऐसे लोगों से सख्ती से निपटा जाएगा। बद्दी में भी कुछ लोग पास  बनाकर उसका दुरूपयोग कर रहें। उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। साथ ही कंडाघाट में भी  एक व्यक्ति ने एक लड़की के बारे सोशल मीडिया में पोस्ट डालकर अफवाह फैलाई कि लड़की कोरोना पॉजिटिव है बाद में जांच में लड़की नेगेटिव निकली। इस व्यक्ति के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। शिमला में देखा गया है कि कुछ रेस्टोरेंट व ढाबा में लोग बैठकर खा रहे हैं। उन्होंने रेस्टोरेंट व ढाबा मालिकों से आग्रह किया है कि वह कुर्सी या बैंच हटा दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here