नशे के खिलाफ एक्शन मोड में मंडी जिला प्रशासन, लोगों को किया जा रहा जागरूक

स्कूली बच्चे दे रहे सोशल मीडिया द्वारा संदेश

0
168


मंडी : मंडी जिला प्रशासन नशे के खिलाफ एक्शन मोड में है। प्रशासन ने जिला में नशे के दानव पर चौतरफा हमला बोला है। नशा मुक्त भारत अभियान के तहत गांव से लेकर शहर तक नशे के खिलाफ अलख जगाने के लिए छेड़े गए इस अभियान को जनता का भी खूब समर्थन व सहयोग मिल रहा है।सामाजिक कल्याण विभाग मंडी के कार्यक्रम अधिकारी रमेश चंद बंसल ने इस बारे जानकारी देते हुए कहा कि जिला में सरकारी मशीनरी के साथ-साथ ग्राम पंचायतों, स्वयं सेवी संस्थाओं, शिक्षक संस्थानों, महिला एवं युवक मंडलों के साथ ही समाज के प्रत्येक वर्ग का सहयोग लेकर नशा मुक्त भारत अभियान को तेज धार और रफ्तार दी गई है।रमेश चंद बंसल ने बताया कि नशे के दुष्प्रभावों को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए लघु रैलियां निकालने व लघु योग शिविर लगाने के अलावा, युवाओं के लिए पेंटिग्स, पोस्टर मेकिंग, भाषण व नारा लेखन कंपीटीशन जैसे कार्यक्रम भी करवाए जा रहे हैं। इसके अलावा जिलाभर में जनभागीदारी से भांग उखाड़ो अभियान भी छेड़ा गया है।


स्कूली बच्चे दे रहे सोशल मीडिया से संदेश :


नशा मुक्त भारत अभियान के तहत स्कूली बच्चे सोशल मीडिया के जरिए नशे के खिलाफ लड़ाई में अपनी भूमिका निभा रहे हैं। वे सोशल साइट्स पर नशे के विरुद्ध कविताएं, भाषण व खुद के बनाए पोस्टर शेयर करके मुहिम को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दे रहे हैं।सबकी सक्रिय सहभागिता जरूरीउपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने मंडी जिलावासियों से नशा मुक्त भारत अभियान में सक्रिय सहयोग देने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि नशे की समस्या से जनता की सक्रिय सहभागिता से ही निपटा जा सकता है। मंडी जिला को पूर्णतः नशामुक्त बनाने का लक्ष्य पाने को जन जागरूकता पर बल दिया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here