जब तक नहीं बनेगा सख्त कानून,दरिंदे देते रहेंगे दुष्कर्म की वारदातों को अंजाम : लेखराज राणा

0
76

मंडी : उत्तर प्रदेश के हाथरस में 19 वर्षीय युवती के साथ गैंगरेप व इसके बाद अस्पताल में उसकी मौत का आक्रोश पूरे देशभर में व्याप्त है। राजनीतिक व फिल्म जगत सभी ने इस जघन्य अपराध की कड़ी आलोचना की है। विश्व हिंदू परिषद हिमाचल प्रदेश ने भी कड़ा रुख अख्तियार किया है। विश्व हिंदू परिषद हिमाचल प्रांत के अध्यक्ष लेखराज राणा ने कहा कि जब तक देश में सख्त कानून का प्रावधान नहीं होगा तब तक देश में दरिंदे ऐसे ही वारदातों को अंजाम देते रहेंगे। उन्होंने सरकार से मांग की है कि जल्द से जल्द सख्त कानून का प्रावधान कर दोषियों को चौराहे पर कड़ी सजा दी जाए।

लेखराज राणा ने कहा कि भारतवर्ष में महिलाओं को देवी के समान दर्जा दिया जाता है लेकिन आज हमारे देश में बहन व बेटियों की दुर्दशा की जा रही है। उन्होंने कहा कि हाथरस में बेटी के साथ की गई दरिंदगी से अपराधियों को कानूनी का किसी भी प्रकार का कोई भय नहीं होने की बात स्पष्ट हो गई है। उन्होंने कहा कि निर्भया कांड में उसके माता-पिता ने कई वर्षों की जद्दोजहद के बाद अपराधियों को फांसी तक पहुंचाया। उन्होंने कहा कि निर्भया मामले के बाद कानून निर्माताओं से देश में महिला उत्पीड़न को लेकर सख्त कानून बनाने की उम्मीद जगी थी लेकिन आज दिन तक इसको लेकर कोई सख्त कानून नहीं बन पाया है। लेखराज राणा ने मांग की है कि मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट के माध्यम से जल्द से जल्द अपराधियों को फैसला सुनाकर सजा दी जाए। उन्होंने आरोपियों को सार्वजनिक सजा देने की भी मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here