किन्नौर के सत्यजीत नेगी ने उगाया आैषधीय गुणों वाला ग्रांउड एप्पल

0
258

Satyajeet Negi Grows ground apple
किन्नौर ज़िले के बागवान सत्यजीत नेगी ने औषधीय गुणों वाला ग्राउंड एप्पल पैदा किया है। कई औषधीय खूिबयों वाले इस ग्राउंड एप्पल को आठ से दस माह में तैयार हो जाता है। एक बीज से करीब 10 से 15 किलो ग्राउंड एप्पल पैदा हो जाता है। किन्नौर के सत्यजीत ने अपने खेतों में उगाए ग्राउंड एप्पल को राज्यपाल को भी दिखाया है। राज्यपाल ने इसे देखने के बाद तुरंत नौणी यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों को इस औषधीय फल को जांचने के लिए सैंपल भेजे हैं। साथ ही जल्द ही इसकी जांच कर रिपोर्ट सौंपने के भी आदेश दिए हैं। सत्यजीत नेगी का दावा है कि हिमाचल में इसे हर जगह उगाया जा सकता है। इसे आलू की खेती के तरह ही उगाना होता है। इसमें ज्यादा मेहनत भी नहीं लगती है। इसकी जो पत्तियां होती हैं। वह हर्बल टी बनाने में इस्तेमाल की जाती है।

नेपाली मजदूरों से मिला इसका बीज
सत्यजीत नेगी ने बताया कि ग्राउंड एप्पल का बीज उनके बगीचे में काम करने वाले नेपाली मजदूरों ने उन्हें लाकर दिया। सत्यजीत के मुतािबक उनके बागीचे में काम करने वाले मजदूरों ने उन्हें इसके बारे में बताया। नेपाल में काफी लोग इसकी खेती करते हैं और चीन की फार्मािस्यूटिकल कंपनियां वहां से इसे खरीदती हैं। इसका बॉटनीकल नेम यकून हैं और पेरू में इसकी खूब खेती होती है। बीज आने के बाद उन्होंने मार्च माह में किन्नौर तथा शिमला में इसे उगाया। दोनों जगहों पर इसका ट्रायल सफल रहा। ग्राउंड एप्पल शुगर फ्री होता है तथा निकालने के तीन दिन बाद ही यह ज्यादा मीठा होता है।

ग्रांउड एप्पल की खुबियां
ग्राउंड एप्पल को गुणों का भंडार भी कहा गया है। खाने में इसका स्वाद मिठा होता है लेकिन यह पूर्ण रूप से शुगर फ्री है। सात से आठ फूट लंबाई वाले इस ग्रांउड एप्पल के पौधे की पत्तियों से लेकर जडों तक को गुणों से भरा समझा जा रहा है। इसकी एक खुबी यह भी है कि इसे अपने घर के किचन गार्डन में रखे गमले में भी उगाया जा सकता है। इसके अलावा यह ऐसा फ्रुट है जो कई महिनों तक खराब नहीं होता है।

इन बीमारियों में असरदार है ग्रांउड एप्पल
सत्यजीत नेगी और उनके दोस्त राजकुमार चौवा ने कहा कि ग्रांउड एप्पल कई बिमारियों के उपचार में असरदार साबित होता है। उन्होंने बताया कि इंटरनेट और कुछ औषधीय विशेषज्ञों से ली गई जानकारी के अनुसार यह मधुमेह को कम करने, मोटापा कम करने, उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में रखने, लिवर को सही रखने, कई तरह के कैंसर से बचने, एंटी फंगल, एेंटीऑक्सीडेंट एक्टीविटी में कारगर है।

इसके सिरप से छह में कम होता है 25 किलो वजन

सत्यजीत नेगी ने कहा कि जब इसके बारे में और अधिक जानकारी एकत्रीत की तो उन्हें पता चला कि चीन में इसका सिरप बनाया जाता है। इसके सिरप के छह माह तक सेवन करने से 25 किलोग्राम वजन तक कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि वे हिमाचल में इस औषधीय गुणों वाले ग्रांउड एप्पल को हर घर तक पहुंचाना चाहते हैं ताकि यहां के बागवान इसको उगाकर अपनी आर्थिकी को सुदृढ कर सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here