कांग्रेस का अपने ही लोगों का विरोध दुर्भाग्यपूर्ण ..जयराम ठाकुर

सरकार किया अपने दायित्व का निर्वाह ,कांग्रेस ने की सिर्फ राजनीति

0
259

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज कांग्रेस पार्टी के प्रदर्शन से बेहद तल्ख दिखे। उन्होंने तल्ख होते हुए पूछा कि क्या यह सरकार का दायित्व नहीं बनता था कि संकट में फंसे हिमाचल के लोगों की रक्षा की जाए? क्या अपने लोगों को बाहर मरने के लिए छोड़ दिया जाना चाहिए था ? उन्होंने कहा कि सरकार ने अपना नैतिक दायित्व निभाया है और दूसरी ओर कांग्रेस राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि कांग्रेस द्वारा अपने ही लोगों का हिमाचल में आने का विरोध करना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस को इसकी सजा भुगतनी पड़ेगी और यह मामला कांग्रेस के खिलाफ मुद्दा बनेगा । मीडिया से बातचीत करते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी जो देश-प्रदेश में लंबे समय से सत्ता में रही है और वह हिमाचल के बच्चों का हिमाचल में आने का विरोध कर रही है। कोरोना के दौर में हिमाचल के लाखों लोग बाहरी राज्यों में फंसे थे और घर आना चाहते थे। उन्हें हिमाचल आने की मंजूरी दी गई। नियम और कानून के तहत की दो लाख से ज्यादा लोगों को देश के अन्य राज्यों से लाया गया।

पर्यटकों के आने के संबंध में सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि पर्यटको को प्रोटोकॉल के तहत ही अंदर आने दिया जा रहा है। उन्हें दिशानिर्देशों में किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी गई है। हिमाचल की सीमाएं पर्यटकों के लिए खोलने के मामले में कांग्रेस की बयानबाजी पर सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि अच्छा होता कांग्रेसी नेता राजस्थान की तरफ देखते। राजस्थान में हिमाचल की तुलना में अधिक कोरोना मामले हैं। फिर भी वहां हिमाचल से पहले पर्यटकों को आने की अनुमति दी गई। हिमाचल में जितनी शर्ते पर्यटकों के लिए रखी गई हैं वह देश के किसी भी राज्य में नहीं हैं। लॉकडाउन और कर्फ्यू के बाद अनलॉक में कई सेक्टर खोल दिए गए थे। टूरिज्म भी एक आर्थिक सेक्टर है। इसमें कार्यरत लोग बेरोजगार हो गए है और आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं और साथ ही होटल और व्यवसाय भी बंद हो चुके हैं। इस सेक्टर को खोलने का कई लोगों का आग्रह कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अब तक टूरिज्म सेक्टर में एक भी कोरोना का मामला नहीं आया है।

उन्होंने कहा कि संकट के इस दौर में सरकार अपने कर्तव्य को भलीभांति समझती है। सरकार विकास और संकट से बचाव के उपायों पर सोच विचार कर कार्य कर रही है। कांग्रेस सिर्फ राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा हम इंतजार कर रहे हैं कि हिमाचल में कोरोना का यह दौर समाप्त हो और फिर हम मैदान में मिलेंगे। पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के निवास पर लंच में कांग्रेसियों के इकट्ठे होने को लेकर उन्होंने कहा कि नियम व कानून सब लोगों के लिए होते हैं। लंच में बहुत सारे लोग आए और कुछ नहीं आए। इस बारे ज्यादा कहने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन एक बात समझनी चाहिए कि देश और प्रदेश में अब ऐसी परिस्थितियां नहीं रही हैं। इस बात को कांग्रेसी नेताओं को स्वीकार करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here