कसुम्पटी क्षेत्र की विधायक की गद्दी को लेकर दो रियासतों के बीच रोचक जंग

0
148


विधानसभा क्षेत्र में तीन उम्मीदवार दो पूर्व राजघरानों से सियासी जंग में कूदे हैं। प्रदेश में सत्तासीन रही कांग्रेस ने कसुम्पटी के पूर्व विधायक कोटी रियासत से अनिरुद्ध सिंह को टिकट दिया है। वहीं, दूसरी ओर माकपा के कुलदीप तंवर भी यहां से मैदान में है। भाजपा ने कसुम्पटी से क्योंथल रियासत की ज्योति सेन को टिकट दी है। ज्योति सेन क्योंथल रियासत की रानी और पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह की भाभी हैं। ज्योति सेन कांग्रेस के प्रत्याशी कोटी रियासत के राणा अनिरुद्ध सिंह की बुआ की बहू है। बताते हैं कि कुलदीप सिंह तंवर भी कोटी रियासत से राजसी परिवार से संबंध रखते रहे हैं। तीनों उम्मीदवार प्रजा के दरबार पर हाजिरी भर रहे हैं। मुकाबला कड़ा यहां इसलिए बताया जा रहा है कि यह मुकाबला अपनों के बीच ही है। हालांकि सीट से सात प्रत्याशी यहां चुनावी दंगल में कूदे हैं। उपरोक्त तीनों राजसी परिवारों के उम्मीदवारों के अलावा बसपा से रमेश कुमार, इंद्र सिंह, देव राज भारद्वाज, मदन मोहन ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर ताल ठोकी है।

वर्ष 1901 में राजस्व रिकॉर्ड के मुताबिक कोटी रियासत का दायरा 100 वर्ग किलोमीटर के करीब रहा है। जनसंख्या साढ़े सात हजार के लगभग थी। इसकी पड़ोसी रियासत क्योंथल चंद्रवंशी सेन राजाओं की रही है। भारत में इस रियासत का विलय 15 अप्रैल 1948 में हुआ था। वीर विक्रम सेन प्रत्याशी ज्योति सेन के पति वर्ष 2002 में इस रियासत के 78वें राजा घोषित हैं। वहीं, माकपा के कुलदीप तंवर चुनावी जंग को किसान मेहनतकश मजदूर बनाम राजवाड़ाशाही की बता रहे हैं। कसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र में कुल 61,084 मतदाता हैं, जिसमें से पुरुष मतदाता 32,074 और महिला मतदाता 29,010 हैं। इस क्षेत्र में कुल 30 पंचायतें हैं। 15 पंचायतें कोटी तथा इतनी ही पंचायतें क्योंथल रियासत में पड़ती हैं। पांच वार्ड नगर निगम म‌र्ज्ड एरिया इस क्षेत्र में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here