दिव्या कपूरआत्महत्या मामले में मृतक की ननद की हेंड राईटिंग सैंपल मैच करने के निर्देश

पुलिस के पास फोरेंसिंक और पोस्टमार्टम की पहुंच चुकी है रिपोर्ट, डीएसपी समेत चार नए अधिकारी करेंगे अब केस की जांच ...।

0
87

रामपुर बुशहर: रामपुर में दिव्या कपूर आत्महत्या मामले में अब शिमला से एक डीएसपी दो इंस्पेक्टर और एक अन्य अधिकारी को जांच का जिम्मा सौंपा गया है। यह सभी अधिकारी रोजाना एएसपी शिमला को जांच की सारी रिपोर्ट दिया करेंगे। इसके अलावा मामले में सभी लोगों के मोबाईल जब्त कर फोरेंसिक में भेज दिए गए हैं। पुलिस के पास विसरा की रिपोर्ट भी आ चुकी है अब सभी कड़ियों को जोड़ कर जांच को तेजी से आगे बढ़ाया जाएगा। यह जानकारी एएसपी शिमला प्रवीर ठाकुर ने दी है।
रामपुर में नौ जून को शाम के समय निजी स्कूल में पढ़ाने वाली और मुख्य बाजार में रहने वाली शिक्षिका ने ससुराल में फंदा लगाकर अपनी जान दे दी थी। लेकिन शिक्षिका के परिजन इसे आत्महत्या मानने को तैयार नहीं हैं और ससुराल पक्ष के लोगों पर उसे आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगा रहे हैं क्योंकि आत्महत्या से पहले दिव्या कपूर ने सोशल मीडिया में उसे जमीनी जायदाद के लिए पीड़ित करने के आरोप लगाए थे। इस बारे में एएसपी शिमला प्रवीर ठाकुर ने बताया कि इस मामले की गंभीरता को समझते हुए अब शिमला से डीएसपी शक्ति सिंह, दो इंस्पेक्टर और रामपुर चौकी प्रभारी को जांच तेजी से आगे बढ़ाने का जिम्मा सौंपा गया है। यह सभी अधिकारी रोजाना उन्हें रिपोर्ट कर जांच का पूरा ब्यौरा देंगे। उन्होंने बताया कि पुलिस के पास मृतका के विसरा की रिपोर्ट भी आ गई है। इसके अलावा दिव्या कपूर के मोबाईल का डाटा भी फोरेंसिक लेब से आ चुका है। फाईनल पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी जल्द आ जाएगी। उन्होंने बताया कि मामले में आरोपी सभी व्यक्तियों के मोबाईलों को जब्त कर फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जा चुका है। साथ ही ननद की हेंड राईटिंग को मैच करने के निर्देश अधिकारियों को दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस पूरी निष्पक्षता से इस मामले की जांच कर रही है और दिव्या के परिजनों से भी जरूरत पड़ने पर बातचीत की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here