एचआरटीसी बस बनी बर्निंग बस, गिली मिट्टी से बुझाई आग

हुए हादसे के समय बस में सवार थी 10 से 12 सवारियां, सभी पूरी तरह सुरक्षित

0
606


मंडी : एचआरटीसी की चलती बस में आग लग गई, लेकिन गनीमत यह रही कि बस में मौजूद लोग समय रहते बाहर उतर आए और गिली मिट्टी की मदद से आग पर काबू पा लिया। हादसा बीती शाम को पधर उपमंडल के तहत आने वाले धमच्याण गांव के पास हुआ। मिली जानकारी के अनुसार एचआरटीसी की बस नंबर एचपी 65 3148 मंडी से बरोट रूट पर जा रही थी। धमच्याण गांव के पास बस से काफी ज्यादा धुआं निकलने लगा। ड्राईवर जगदम्बा प्रसाद और कंडक्टर सुरेश कुमार ने बस को तुरंत प्रभाव से रोककर सभी सवारियों को नीचे उतार दिया। उतर कर लोगों ने देखा की बस के नीचे से काफी ज्यादा धुआं निकल रहा था और साथ ही आग की लपटें भी दिखाई दे रही थी। ड्राईवर कंडक्टर और मौके पर मौजूद लोगों ने पास में मौजूद गिली मिट्टी की मदद को आग की लपटों पर फेंकना शुरू कर दिया और इसी तरह से आग पर काबू पाया गया। हालांकि बाद में पानी का बंदोबस्त भी किया गया लेकिन तब तक अधिकतर आग पर काबू पा लिया गया था। इस सारे घटनाक्रम का वहां मौजूद सवारियों ने वीडियो भी बनाया है। हालांकि सरकार ने बसों में फायर एक्सटिंग्यूशर लगाए हुए हैं लेकिन अब यह जांच का विषय है कि क्या बस में फायर एक्सटिंग्यूशर था या नहीं। अगर था तो उसका इस्तेमाल क्यों नहीं किया गया।

एचआरटीसी के आरएम गोपाल शर्मा ने बताया कि टेक्निकल टीम को मौके पर भेजा गया है और मामले की जांच शुरू कर दी गई है। जो भी तथ्य सामने आएंगे उसी के तहत नियमानुसार कार्रवाई अम्ल में लाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here