सात एचएएस को आइएएस अफसर बनाने पर लगी मुहर

0
283

शिमला। नई दिल्ली में संघ लोक सेवा आयोग की बैठक में हिमाचल के सात एचएएस को आइएएस अफसर बनाने (इंडक्ट) पर मुहर लग गई है। हालांकि इस पर अंतिम मंजूरी दस दिन बाद मिलेगी। बैठक में प्रदेश के मुख्य सचिव अनिल खाची व कार्मिक विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव प्रबोध सक्सेना भी मौजूद रहे। इंडक्शन प्रक्रिया के तहत औपचारिक तौर पर अश्विनी राजशाह, कुमुद सिंह, विनय सिंह, हरबंस सिंह ब्रासकोन, रीमा कश्यप, शुभकरण व सुमित खिमटा के नाम को मंजूरी प्रदान की गई।

अब आयोग से अंतिम मंजूरी से पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के पास फाइल आएगी। उसके बाद केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय नए आइएएस अफसर के नाम की सूची जारी करेगा। इस संबंध में अधिसूचना जारी होगी। पिछले छह माह से कोरोना संक्रमण के कारण यह प्रक्रिया लटकती रही है। एक महीना पहले भी नई दिल्ली से संबंधित सचिव का प्रदेश दौरा तय हो गया था, मगर कोरोना की दूसरी लहर आने से मामला आगे खिसका दिया गया था।

एचपीपीएस से आइपीएस काडर में आएंगे दो अफसर

एचपीपीएस से आइपीएस काडर में भी दो अफसर आएंगे। इस संबंध में आयोग में विभागीय पदोन्नति समिति की बैठक हुई। दो पदों के लिए छह पुलिस अधिकारियों को पैनल भेजा गया था। इनमें एआइजी पदमचंद, एसपी कानून व्यवस्था भगत ठाकुर, एसपी साइबर क्राइम संदीप धवल, एसपी एसडीआरएफ राकेश सिंह, एसपी रैंक के अरविंद चौधरी, एसपी इंटेलीजेंस संदीप भारद्वाज के नाम शामिल हैं। इनमें से वरिष्ठता में पदम चंद व भगत ठाकुर की आइपीएस काडर में इंडक्शन होनी तय मानी जा रही है। सूत्रों के अनुसार इनके नामों पर मुहर लग गई है। जैसे ही औपचारिकता पूरी होंगी, अधिसूचना जारी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here