हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ ने की पुरानी पेंशन बहाली के लिए बुलंद आवाज

0
343

चंबा। हिमाचल प्रदेश राजकीय अध्यापक संघ जिला चंबा इकाई ने सरकार से केंद्र की 2009 की अधिसूचना लागू कर पुरानी पेंशन को जल्द बहाल करने की मांग उठाई है। अध्यापक संघ के जिला अध्यक्ष हरि प्रसाद शर्मा का कहना है कि वैश्विक कोरोना महामारी के दौरान अध्यापकों ने लोगों को जागरूक करने के साथ होम आइसोलेट लोगों के घर-घर जा कर उनका हाल चाल जानने के साथ उनके संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट तैयार करने जैसे कई तरह के कार्यो को अंजाम दिया है।इसके अलावा कोरोना महामारी के दौरान आनलाइन पढ़ाई के साथ बाजार व अन्य क्षेत्रों में लोगों पर निगाह रखने जैसी सेवाएं लगातार दे रहे हैं, ताकि लोग एक जगह जमा न हो व कोरोना नियमों का सख्ती से पालन किया जा सके। कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से छह से अधिक शिक्षकों की मौत भी हो चुकी है। जो न्यू पेंशन स्कीम के तहत आते थे। ऐसे में उन शिक्षकों के परिवारों को जीवन यापन करना मुश्किल हो गया है। ऐसे में सरकार उनकी समस्याओं देखते हुए जल्द पुरानी पेंशन बहाल करें, ताकि उन्हें इस सुविधा का लाभ मिल सके।

संघ के जिला अध्यक्ष हरि प्रसाद शर्मा के अलावा राज्य वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुकेश शर्मा, राज्य महिला विग अध्यक्ष डा. कविता बिजलवान, महासचिव सत्येंद्र राणा, वित्त सचिव रोहित शर्मा, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुरेंद्र मोहन तथा खंड प्रधान ने सरकार से मांग की है कि कोरोना के दौरान जिन शिक्षकों की मृत्यु हुई है, उनके परिवार को कोरोना योद्धा का लाभ प्रदान किया जाए। इसके अलावा उन्होंने कोरोना के दौरान ड्यूटी दे रहे शिक्षकों की सुरक्षा को देखते हुए उन्हें गलब्ज, सैनिटाइजर, मास्क सहित अन्य सुरक्षा से संबंधित सामान उपलब्ध करवाया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here