कोरोना से जंग जीतने के लिए पंचायतों ने अपने स्तर पर भी छेड़ा अभियान, नहीं माने तो नियमों को सख्ती से लागू करने की भी चेतावनी

0
566

करसोग। करसोग उपमंडल में कोरोना से जंग जीतने के लिए पंचायतें भी सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है। गांव तक फैल चुके कोरोना संक्रमण को खत्म करने के लिए सेनेटाइजेशन अभियान चलाया गया है। लेकिन इसके अतिरिक्त चुराग पंचायत के एक कदम आगे बढ़ाते हुए लोगों को नियमों की सख्ती से पालना का भी पाठ पढ़ाया है। शनिवार को जनप्रतिनिधियों ने पंचायत सचिव सहित विभिन्न विभागों के कर्मचारियों स्थानीय युवक मंडलों के सहयोग से चुराग बाजार सहित सरकारी कार्यालय व वार्ड में जाकर हर घर और आसपास के क्षेत्र को सेनेटाइज किया। इस दौरान दुकानदार सहित स्थानीय लोगों को एक बार फिर से सख्ती के साथ उचित शारीरिक दूरी, सही तरह से मास्क पहनने और जरूरी कार्य पर ही घर से बाहर निकलने की चेतावनी दी गई। इसके बाद भी अगर आदेशों की अवहेलना होती है तो ऐसे लोगों के पंचायत अपने स्तर पर 100 से 500 रुपये का चालान काटेगी। इस पैसे को क्षेत्र विकास और जनहित के कार्य पर खर्च किया जाएगा इससे पूर्व जनप्रतिधि कोविड 19 के नियमों की सही तरह से पालना करने के लिए घर घर जाकर पोस्टर लगा चुके हैं। जिसमें लोगों को कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए बार बार हाथ धोने, दो गज की दूरी के नियमों की पालना, बिना मास्क घरों से बाहर न निकलने व सार्वजनिक स्थलों पर न थूकने का संदेश दिया गया है। प्रधान संतोष कुमारी ने कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए स्थानीय जनता से भी सहयोग की अपील की है। उन्होंने सेनेटाइजेशन अभियान में शामिल होने के लिए अभी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा चुराग सेंटर की जगह है, इसलिए वेक्सिनेशन के कैम्प के लिए आसपास की कई पंचायतों से यहां लोग आते है। इस हिसाब से यहां वेक्सिनेशन की कमी होती है। उन्होंने सरकार से इस व्यवस्था को भी सुधारे जाने की मांग की है।

वहीं चुराग पंचायत के उपप्रधान चेतन शर्मा ने बताया कि पंचायत में सेनेटाइजेशन के साथ लोगों को फिर से जागरूक भी किया गया। उन्होंने कहा को पंचायत में फिर से कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आये है। ऐसे में लोगों को सख्ती से नियमों की पालना करने की चेतावनी भी दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here