मुख्यमंत्री ने लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सा महाविद्यालय को सिटी स्कैन और एक्स-रे मशीन समर्पित की

0
238

मंडी। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला मण्डी में लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सा महाविद्यालय नेरचैक को 7 करोड़ रुपये की लागत की 128 स्लाईस सिटी स्कैन और 1.20 करोड़ रुपये की लागत की सीलिंग माउटिड एक्स-रे मशीन समर्पित की।

इस अवसर पर विद्यार्थियांे और कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सिटी स्कैन मशीन, पूरे क्षेत्र में सबसे आधुनिक मशीन है। उन्होंने कहा कि यह मशीन प्रदेश के मण्डी, कुल्लू, लाहौल-स्पीति, बिलासपुर, हमीरपुर और चम्बा जिलों में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में अह्म भूमिका निभाएगी।  

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस चिकित्सा महाविद्यालय ने कोविड-19 महामारी के दौरान सराहनीय सेवाएं प्रदान की है। यह महाविद्यालय लोगों को बेहतरीन स्वास्थ्य सेवा सुविधाएं प्रदान करने में भी इस क्षेत्र का उत्कृष्ठ महाविद्यालय बन कर उभरा है। प्रदेश और केन्द्र सरकार के सहयोग से केंसर देखभाल केन्द्र स्थापित करने के लिए 45 करोड़ रुपये की परियोजना प्रदान करने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि इससे क्षेत्र के लोगों को बेहतर केंसर देखभाल सुविधाएं सुनिश्चित होगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सा संस्थान में 6.10 करोड़ रुपये की लागत से कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पताल स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि महामारी समाप्त होने उपरान्त सरकार ने इस मेक शिफ्ट अस्पताल का प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करने का निर्णय लिया है।

मुख्यमंत्री ने महाविद्यालय के दंत चिकित्सा विभाग को 94 लाख रुपये की लागत की टीएमटी, ईएचसीओ,   ब्रोन्कोस्कोप चिकित्सा उपकरण और 37 लाख रुपये की लागत की सीबीसीटी तथा एक्स-रे मशीन समर्पित की।

विधायक इन्द्र सिंह गांधी ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री और अन्य उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

लाल बहादुर शस्त्री राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय के प्रधानाचार्य प्रोफेसर आर.सी ठाकुर ने भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया और महाविद्यालय द्वारा मरीजों को प्रदान की जा रही विभिन्न सुविधाओं के बारे में अवगत करवाया।

सांसद राम स्वरूप शर्मा, विधायक विनोद कुमार, जिला परिषद् मण्डी के अध्यक्ष पाल वर्मा, अटल आर्युविज्ञान एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुरेन्द्र कश्यप, उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, चिकित्सा महाविद्यालय के संयुक्त निदेशक डी.सी. ठाकुर, चिकित्सा महाविद्यालय के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. जीवानन्द चैहान भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here