कोरोना अपडेट: पिछले 24 घंटो में हिमाचल में रिकॉर्ड 55 लोगों की मौत, 2854 पॉजिटिव मामले

0
166

शिमला। पिछले 24 घंटो में हिमाचल में रिकॉर्ड 55 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई है। कांगड़ा जिले में 16, नेरचौक मेडिकल कॉलेज  मंडी में आठ, हमीरपुर छह, शिमला पांच, सोलन सात, ऊना छह और सिरमौर में चार संक्रमितों की मौत हुई है। इसके अलावा चंबा, किन्नौर और बिलासपुर में एक-एक संक्रमित ने दम तोड़ा। उधर, प्रदेश में 2854 लोगों के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से कांगड़ा जिले में रिकॉर्ड 717, मंडी 415, बिलासपुर 400, हमीरपुर 341, शिमला 242, चंबा 201, ऊना 142,  सोलन 113, कुल्लू  101, सिरमौर 163 और लाहौल-स्पीति में19 नए पॉजिटिव केस आए हैं। जबकि कुछ जिलों की कोरोना रिपोर्ट अभी आनी है। वहीं, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी और उनके परिवार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी।

कहां कितने सक्रिय केस
इसके साथ ही प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 107121 पहुंच गया है। इनमें से अब तक 80679 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय कोरोना मामले अब 21788 हो गए हैं और 1599 संक्रमितों की मौत हुई है। बिलासपुर में कोरोना के सक्रिय केसों की संख्या 1662, चंबा 874, हमीरपुर 1593, कांगड़ा 5384, किन्नौर 208, कुल्लू 659, लाहौल-स्पीति 280, मंडी 2257, शिमला 2273, सिरमौर 2336, सोलन 2967 और ऊना जिले में 1295 पहुंच गई है। बीते 24 घंटों में 1526 संक्रमित ठीक हुए हैं। इस दौरान कोरोना की जांच के लिए 8511 लोगों के सैंपल लिए गए।

शव यात्रा में शामिल 17 लोग पॉजिटिव
 गगल के नजदीक गांव ढुगयारी में वार्ड नंबर चार में एक ही वार्ड में 17 लोग पॉजिटिव पाए गए। ढुगयारी पंचायत प्रधान निशा देवी ने बताया कि इसी वार्ड में चार दिन पहले एक मृत्यु हुई थी, जिसमें ये लोग शव यात्रा में शामिल हुए थे। इनका सोमवार को कोरोना टेस्ट करवाया गया। इसमें 17 लोग पॉजिटिव निकले। उधर, ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर तियारा के संजय भारद्वाज ने बताया कि इन सभी का तियारा के हेल्थ सेंटर में कोरोना टेस्ट करवाया गया। कांगड़ा के एसडीएम अभिषेक वर्मा को रिपोर्ट भेज दी गई है।

तपती धूप में कोविड टेस्ट के लिए खड़े तीन लोग बेहोश
सिविल अस्पताल जोगिंद्रनगर में कोविड टेस्ट के लिए तपती धूप में अपनी बारी का इंतजार कर रहीं दो महिलाएं और एक पुरुष अचानक बेहोश हो गए। इससे अफरातफरी का माहौल हो गया। बेहोश एक महिला की बाजू में चोट भी पहुंची है। बाद में व्यवस्था को संभाल लिया गया। कोविड टेस्ट के लिए लंबा इंतजार उम्रदराज लोगों के लिए जी का जंजाल बन गया है। सिविल अस्पताल जोगिंद्रनगर में कोविड टेस्ट के लिए रोजाना लग रही भीड़ पर पुख्ता प्रबंधों के अभाव पर लोगों ने तलखी दिखाई और अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ रोष जताया। 

आरोप है कि कोविड टेस्ट के लिए रोजाना घंटों तपती धूप में इंतजार करना पड़ रहा है। उम्रदराज लोगों के बैठने तक के लिए अस्पताल प्रबंधन ने इंतजाम नहीं किए हैं। इस कारण लोगों को दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। लोगों ने कोविड टेस्ट के लिए अतिरिक्त स्टाफ और कक्ष बढ़ाने की मांग की है। जोगिंद्रनगर के एसडीएम अमित मेहरा ने कहा कि मरीजों के लिए फ्लू कॉर्नर और कोविड टेस्ट के लिए भी आधुनिक सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए प्रशासन अपने स्तर पर कार्य कर रहा है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here