दिल्ली में एक हफ्ते के लिए बढ़ा लॉकडाउन

0
284

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना के चलते हालात में सुधार नहीं होने के चलते राज्य सरकार सूबे में लगे लॉकडाउन को और एक हफ्ते के लिए बढ़ा दिया है. सीएम केजरीवाल ने इस बात का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि हमने विचार करने के बाद इस यह फैसला लिया है. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इसलिए दिल्ली में लॉकडाउन लगाना बहुत जरूरी हो गया था.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन आखिरी हथियार है. जिस तरह से केस बढ़ रहे थे. आखिरी हथियार इस्तेमाल करना जरूरी हो गया था. अभी भी कोरोना का कहर जारी है. इसलिए हमने राज्य में लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है. 3 मई को सुबह पांच बजे तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया है.

ऑक्सीजन की समस्या- केजरीवाल

सीएम केजरीवाल ने कहा कि इस समय दिल्ली में ऑक्सीजन की जरूरत सात सौ टन की है और हमें केंद्र सरकार से 480 टन ऑक्सीजन आवंटित हुई है. कल 10 टन केंद्र सरकार ने और आवंटित किया है. यानी कुल 490 टन ऑक्सीजन आवंटित हुई है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हालांकि पूरी सप्लाई आ नहीं पा रही है. दिल्ली को 330 से 335 टन तक ही ऑक्सीजन मिल पा रही है. यही वजह है कि दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी काफी ज्यादा है.

बता दें कि दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 32% से ऊपर चल रहा है, ऑक्सीजन का संकट बना हुआ है, बेड्स की भी किल्लत है जिसके चलते फ़िलहाल सरकार को लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा और कोई रास्ता नहीं दिख रहा है. इससे पहले 19 अप्रैल की रात 10:00 बजे से दिल्ली में लॉकडाउन शुरू हुआ था, 26 अप्रैल की सुबह 5:00 बजे तक मौजूदा लॉकडाउन की अवधि है. रविवार को दिल्ली सरकार इस पर अंतिम फैसला लेगी.

24,103 नए मामले, 357 की मौत दिल्ली में बीते शनिवार को 24 घंटे में कोरोना के 24,103 नए मामले सामने आए. चिंता की बात ये रही बीते 24 घंटे में दिल्ली में रिकॉर्ड 357 मौतें हुईं. ये अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. इतना ही नहीं, दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट भी बढ़कर 32.27% हो गया. फिलहाल राजधानी में 93,080 मरीजों का इलाज चल रहा है. इससे पहले शुक्रवार को दिल्ली में 348 मरीजों की मौत हुई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here