गाड़ियों के फर्जी पंजीकरण का मामला: नेता विपक्ष अग्निहोत्री ने की CBI जांच की मांग

0
188

शिमला। हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला के पालमपुर ओर नूरपुर में कीमती वाहनों के पंजीकरण फर्जीवाड़े की कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री ने सीबीआई जांच की मांग की है। मुकेश ने आरोप लगाया कि कीमती वाहनों के नूरपुर व अन्य स्थानों पर हुए पंजीकरण में सरकारी खजाने को करोड़ों रुपये की चपत लगी है ओर इस फर्जी पंजीकरण में बड़े मगरमछ शामिल है और इन सब का खुलासा होना चाहिए ।उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने वीएस-4 वाहनों के पंजीकरण पर रोक लगाई थी, लेकिन दो-तीन करोड़ रुपये की गाड़ियों के मालिकों ने वीएस-4 के बजाय वीएस-6 के दस्तावेज लगाकर वाहनों को पंजीकृत करवाया.

एक वाहन में कम से कम 25 से 30 लाख रुपये की टैक्स चोरी की गई है और आठ अप्रैल 2021 को अतिरिक्त आयुक्त परिवहन ने ऐसे सभी वाहनों के पंजीकरण रद करने के आदेश दिए हैं। मुकेश ने कहा की रजिस्ट्रेशन निरस्त करने को लेकर पत्र निकाला गया है लेकिन ये रजिस्ट्रेशन किसने कार्यवाही ओर किसकी शाह पर की गई उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जानी चाहिए।

बता दे देश के काफी प्रभावशाली लोगों ने टैक्स बचाने के लिए बेशकीमती गाड़ियों का प्रदेश में पंजीकरण करवाया है। इसमें पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग भी शमिल है। वीरेंद्र सहवाग की मर्सिडीज गाड़ी का पंजीकरण नूरपुर में हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here