कोविड परीक्षण में वृद्धि और टीकाकरण अभियान को प्रोत्साहित किया जाए: मुख्यमंत्री

0
55

शिमला। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने स्थानीय स्वास्थ्य और प्रशासनिक अधिकारियों को कोरोना के पांच से अधिक मामले वाले क्षेत्रों को मिनी कंटेनमंेट जोन घोषित करने के निर्देश दिए। कोरोना परीक्षण की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए और लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। उन्होंने स्थानीय निकायों और स्वयंसेवी संस्थाओं से लोगों को कोरोना के बढ़ रहे मामलों के बारे में जागरूक करने में प्रदेश सरकार की सहायता करने का आग्रह किया।

मुख्यमंत्री आज कांगड़ा और चंबा जिलों में कोविड-19 महामारी में हुई बढ़ौतरी पर समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों जिलों में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़ रही है और होम आईसोलेशन के तहत व्यक्तियों की नियमित रूप से निगरानी की जानी चाहिए। उनका मनोबल बढ़ाने के लिए उनका उचित मार्गदर्शन किया जाना चाहिए और स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा उन्हें थर्मामीटर, आॅक्सीमीटर और दवाइयां उपलब्ध करवाई जानी चाहिए। नए रोगियों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए, टांडा मेडिकल काॅलेज में बिस्तरों की क्षमता बढ़ाई जानी चाहिए। कोरोना की दूसरी लहर में मृत्यु दर अत्यधिक चिंताजनक है जिसमंे युवाओं की भी मृत्यु हो रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नवरात्रों को ध्यान में रखते हुए, मंदिरों और अन्य धार्मिक स्थलों पर जाने वाले सभी भक्तों को भीड़-भाड़ से बचना चाहिए और अधिकारियों द्वारा भीड़ को नियंत्रित करने के लिए उचित कदम उठाए जाने चाहिए। राज्य सरकार ने मंदिरों को खोलने की अनुमति दी है और साथ ही लंगर, भंडारों और कीर्तन के आयोजन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। राज्य मंत्रिमंडल के निर्णय के तहत कोरोना की उच्च संख्या वाले सात राज्यों के लोगों के राज्य में प्रवेश के लिए किसी भी आईसीएमआर केंद्र द्वारा मान्य नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी, जो 72 घंटों से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि पंचायती राज संस्थानों के नवनिर्वाचित सदस्यों को इस खतरनाक वायरस से निपटने में स्थानीय लोगों की सहायता के लिए सक्रिय रूप से और लगातार काम करना चाहिए। उन्हें समय-समय पर सरकार द्वारा जारी किए गए मानक संचालन प्रक्रियाओं का सख्ती से पालन करने के लिए लोगों को जागरूक करना चाहिए।

जनप्रतिनिधियों द्वारा लोगांे को प्रोत्साहित करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि लोग उचित तरीके से फेस मास्क पहनें और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए सैनिटाइजेशन का प्रयोग करें और अत्यधिक आवश्यक होने पर ही सार्वजनिक स्थानों पर जाएं।

स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य लोगों का स्वागत किया, जबकि टांडा मेडिकल काॅलेज के प्रधानाचार्य डाॅ. भानु अवस्थी और मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. गुरुदर्शन गुप्ता ने कोरोना से निपटने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में प्रस्तुति दी। कांगड़ा के उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति और चंबा के उपायुक्त डीसी राणा ने अपने जिलों से संबंधित जानकारी दी।

उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर, वन मंत्री राकेश पठानिया, सांसद किशन कपूर, विधायक विशाल नेहरिया और अर्जुन सिंह तथा पुलिस अधीक्षक विमुक्त रंजन अन्य अधिकारियों के साथ बैठक में उपस्थित थे।

इसके उपरांत, धर्मशाला नगर निगम के महापौर और उप महापौर के चुनाव के बाद मीडियाकर्मियों से वार्तालाप करते हुए, मुख्यमंत्री ने नव निर्वाचित महापौर, उप महापौर सहित सभी पार्षदों को बधाई दी। उन्होंने धर्मशाला में वर्ष 2019 में किए गए शिलान्यास वाली 150 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं को गति प्रदान करने पर बल दिया। इसके अतिरिक्त, पिछले तीन माह के दौरान विभिन्न परियोजनाओं के लिए 100 करोड़ रुपये की राशि दी गई है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में राज्य में आवश्यक उपकरणों, वस्तुओं, दवाओं और सुविधाओं की कोई कमी नहीं है। राज्य में पीपीई किट, वेंटिलेटर और अन्य संबंधित वस्तुओं की पर्याप्त संख्या है।

धर्मशाला पुलिस ग्राउंड में मीडिया कर्मियों के साथ बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश देश का एक प्रमुख पर्यटक स्थल है और हर साल लाखों पर्यटक यहां आते है। गत वर्ष देश में कोरोना फैलने के कारण राज्य को नुकसान उठाना पड़ा है। इस वर्ष भी, कोविड-19 के दोबारा फैलने से पर्यटन सीजन प्रभावित हो सकता है इसलिए हिमाचल में आने वाले किसी भी पर्यटक को प्रवेश से वंचित नहीं किया जा सकता। प्रदेश सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पर्यटकों व होटल व्यवसायियों सहित सभी प्रदेशवासी मानक संचालन प्रक्रियाओं का कड़ाई से पालन करें।

महापौर ओंकार नेहरिया और उप महापौर सर्वचंद गलोटिया सहित भाजपा के नवनिर्वाचित पार्षदों ने मुख्यमंत्री से भेंट की। तियारा ग्राम पंचायत के एक प्रतिनिधिमंडल ने भी जय राम ठाकुर से भेंट की और हाल ही में तियारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने के लिए आभार व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here