करसोग के अल्याड गांव में मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

0
295

करसोग। महिला मंडल अल्याड़ एवं आंगनबाड़ी केंद्र अलसिंडी ने संयुक्त रूप से अल्याड़ गांव में स्वतंत्रता दिवस मनाया गया।
77वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पूर्व स्वतंत्रता सैनानी स्वर्गीय तारा चंद की धर्मपत्नी साहबू देवी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत कर राष्ट्रीय ध्वज फहराया।
इस अवसर पर महिलाओं ने देश की आजादी में अपनी अहम भूमिका निभाने वालेवीर सपूतों के संघर्ष एवं बलिदानों को याद किया।

मुख्यातिथि साहबू देवी ने प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए उनके सुखमय एवं  समृद्ध जीवन की कामना की।
महिला मंडल अल्याड की अध्यक्ष शांता देवी ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक दिन है जब देश को विदेशी साम्राज्य की बेड़ियों से आजादी मिली। स्वतंत्रता दिवस पर, हम उन सभी देशभक्तों और वीर सपूतों को भी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं, जिन्होंने आजादी के बाद देश की एकता और अखंडता को बनाए रखने और देश की सीमाओं की रक्षा के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया है।

वहीं आंगनबाड़ी केंद्र अलसिंडी की कार्यकर्ता लता देवी ने कहा कि असंख्य स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान और वीर सपूतों के संघर्ष ने हमें आजादी दिलाई है। उन्होंने महिला मंडल अल्याड की सभी महिलाओं को आजादी के इस पावन पर्व को सफल बनाने पर बधाई दी। खासकर पूर्व स्वतंत्रता सैनानी की धर्मपत्नी साहबू देवी का इस कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचने पर आभार प्रकट किया।
इस मौके पर महिला मंडल अल्याड की उप्रधान निशा देवी,सदस्य प्रेमी देवी, बिमला देवी, नीलाम, सुभद्रा देवी, दासी देवी, किरण लता, बिनती देवी, नीता देवी, बबली देवी, पुष्पलता,तनु सहित अल्याड निवासी लाभ सिंह, लीला धर, पार्थिव वर्मा, काव्यांश तथा ऋषि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here