शैलेंद्र सिंह, मुख्य महाप्रबंधक, एसजेवीएन निदेशक (कार्मिक), टीएचडीसीआईएल नियुक्त किये गए

0
119

शिमला। शैलेंद्र सिंह को भारत सरकार द्वारा मिनी रत्न, अनुसूची ‘ए’ सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड का निदेशक (कार्मिक) नियुक्त किया गया है। इससे पहले वे भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के तहत एक मिनी रत्न अनुसूची ‘ए’ पीएसयू एसजेवीएन में मुख्य महाप्रबंधक एवं विभागाध्यक्ष, मानव संसाधन के पद पर कार्यरत रहे। उनका चयन लोक उद्यम चयन बोर्ड, कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग, भारत सरकार द्वारा किया गया है।
 
शैलेंद्र सिंह का जन्म 19 अगस्त 1965 को शिमला, हिमाचल प्रदेश में हुआ और उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा शिमला के प्रतिष्ठित सेंट एडवर्ड स्कूल से प्राप्त की। उन्होंने गवर्नमेंट कॉलेज, शिमला से अंग्रेजी में स्नातक (ऑनर्स) किया और कॉलेज के  टॉपर रहे। उन्होंने ने 1989 में हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय, शिमला से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री हासिल की।
 
शैलेंद्र सिंह ने एसजेवीएन में 1992 में कार्यकारी प्रशिक्षुओं के पहले बैच से अपना करियर शुरू किया। उनके पास मानव संसाधन के सभी क्षेत्रों में 30 से अधिक वर्षों का समृद्ध अनुभव है और उन्होंने कॉर्पोरेट कार्यालय के साथ-साथ एक ही समय पर दो प्रमुख हाइड्रो पावर स्टेशनों 1500 मेगावाट एनजेएचपीएस और 412 मेगावाट आरएचपीएस के एचआर प्रमुख के रूप में काम किया। उनके पास एमिटी, न्यूयॉर्क (यूएसए) में आयोजित ग्लोबल बिजनेस लीडरशिप, रॉयल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन, लंदन (यूके) में मानव संसाधन समारोह का आधुनिकीकरण और एएससीआई, हैदराबाद में विभिन्न नेतृत्व और प्रबंधन कार्यक्रमों जैसे विभिन्न उन्नत राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रशिक्षण कार्यक्रमों का अनुभव है।
एसजेवीएन में अपने कार्यकाल के दौरान, उन्होंने कई एचआर इनिशिएटिव्स जैसे पूरे संगठन में एसएपी ईआरपी आधारित एचआर मॉड्यूल का कार्यान्वयन, रणनीतिक इंटरवेंशन के रूप में बैलेंस स्कोर कार्ड का कार्यान्वयन, विभिन्न एल एंड डी इंटरवेंशन के माध्यम से पूरे संगठन के लिए कर्मचारी विकास को संचालित करना और संगठन के मीडिया आउटरीच को बढ़ाना आदि को सफलतापूर्वक कार्यान्वित किया।
कंपनी के विकास में उनके अनुकरणीय योगदान के मान्यतास्वरूप शैलेंद्र सिंह को प्रतिष्ठित ‘एसजेवीएन स्टार अवार्ड 2019’ और ‘अवार्ड ऑफ ऑनर 2022’ से सम्मानित किया गया है।
शैलेंद्र सिंह अपनी नई नियुक्ति को लेकर काफी उत्साहित हैं। उनका ध्यान मानव संसाधन कार्यों में मूल्य जोड़ने, कॉर्पोरेट रणनीति के लिए मानव संसाधन रणनीति को संरेखित करने तथा मजबूत मानव संसाधन संबंधी प्रक्रियाओं की मजबूत नींव पर काम करने के लिए समुचित स्थलों की प्रतिष्ठित सूची में टीएचडीसीआईएल को स्थापित करने पर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here