राहुल गाँधी ने संसद में जो कुछ कहा है, वह झूठ का पुलिंदा : जयराम

0
27

शिमला। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के बागबानी मंत्री जगत सिंह नेगी कांग्रेस की जनता को दी गई 10 गारंटी में से पांचवी गारंटी से मुकर गए है। ऐसा लग रहा है कि गरंटियो के मामले में यह सरकार यू टर्न की सरकार बन कर रह गई है, एक-एक करके अपनी सभी गरंटियो से मुकरने लगी है यह सरकार।

कल बागवानी मंत्री ने कहा कि हिमाचल के बागबान अपने फलों की कीमत तय नहीं कर पाएंगे पर अगर वह अपने मेनिफेस्टो को ध्यान से पड़े तो उसमें स्पष्ट लिखा है कि फलों की कीमत बागबान ही तय करेंगे। सरकार केवल बागबानों को उचित मूल्य देने की बात कर रही है।

हिमाचल प्रदेश में बागवानी क्षेत्र से 12 लाख लोगों को रोजगार मिलता है, राज्य में अढ़ाई लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बागवानी की जाती है।
हिमाचल में लगभग 4 लाख से अधिक बागवान परिवार हैं और हिमाचल की आर्थिकी को इस कारोबार से संबल मिलता है।
आज हिमाचल की जनता हताश है कि जिस वादे को कर कांग्रेस पार्टी सत्ता में आई उससे कांग्रेस पार्टी बड़ी जल्दी पलट गई।
इस तरह पलटना हिमाचल के बागवानी क्षेत्र से जुड़े लोगों के साथ बड़ा धोखा है।

इससे स्पष्ट होता है कि कांग्रेस पार्टी केवल जनता को गुमराह कर सत्ता में आई है और जिस प्रकार से उन्होंने अपने 10 वादे जनता के बीच में रखे है वो सभी वादे एक-एक करके झूठे साबित हो रहे हैं।
सही कहा है कि यह सरकार इंतजार की सरकार है पहले कर्मचारी ओ पी एस का इंतजार कर रहे हैं, महिला प्रतिमा 1500 का इंतजार कर रही है , युवा 5 लाख नौकरियों का इंतजार कर रहा है और अब बागवानी अपने फलों के दामों को स्वयं तय करने का इंतजार कर रहा है।
इंतजार इंतजार और केवल इंतजार की सरकार बन के रह गई है यह सुक्खू सरकार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here