भाजपा ने टिकटों में भी बदला रिवाज, पहली लिस्ट में 62 में से 19 नए चेहरे,,,, 5 महिलाएं ,3 मेडिकल, 2 आयुर्वेदिक डॉक्टर और 3 पीएचडी डॉक्टर उम्मीदवार

0
380

शिमला। विधानसभा चुनावों के लिए प्रदेश भाजपा ने टिकटों में भी रिवाज बदलते हुए इस बार करीब एक तिहाई नए चेहरों को जगह दी है। पार्टी की ओर से जारी प्रत्याशियों की पहली लिस्ट में 62 में से 19 प्रत्याशी ऐसे हैं, जो पहली बार चुनावी मैदान में उतरेंगे। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि पार्टी की मजबूती के लिए काम करने वाले आम कार्यकर्ताओं और पदाधाकारियों को भी बीजेपी ने चुनाव लड़ने का मौका दिया है।

प्रत्याशियों की पहली लिस्ट पर गौर करें तो 62 में से पांच महिलाओं, 4 डॉक्टरों समेत एक रिटायर आईएएस अफसर को टिकट दिया गया। महिला प्रत्याशियों की बात करें तो चंबा विधानसभा सीट पर इंदिरा कपूर को पहली बार टिकट दिया गया है। जबकि कैबिनेट मंत्री सरवीण चौधरी को शाहपुर, विधायक रीना कश्यप को पच्छाद से और इंदौरा सीट से रीता धीमान को हाईकमान ने फिर से भरोसा जताया है। उधर, रोहड़ू सीट पर पूर्व प्रत्याशी शशि बाला को इस बार भी टिकट दिया गया।

सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी की बात करें तो झंडूता से विधायक जेआर कटवाल को एक बार फिर से मौका मिल गया। इसके साथ-साथ भाजपा ने दो पूर्व सैनिकों को भी चुनावी मैदान में उतार दिया है। सुजानपुर विधानसभा सीट से कैप्टन रणजीत सिंह भाजपा प्रत्याशी होंगे। वह पहली बार चुनाव लड़ेंगे जबकि भटियात विधानसभा क्षेत्र से बिक्रम जरयाल पर पार्टी ने फिर से भरोसा जताया है।

जिन चार डॉक्टरों को टिकट मिला है, उनमें से दो मेडिकल डॉक्टर और दो आयुर्वेदिक चिकित्सक हैं। भरमौर विधानसभा सीट से डा. जनकराज और सोलन सीट से डा. राजेश कश्यप मेडिकल डॉक्टर हैं , डॉक्टर अनिल धीमान भोरंज भी मेडिकल डॉक्टर है जबकि डॉ. राजीव सैजल और डॉ. राजीव बिंदल आयुर्वेदिक चिकित्सक हैं। इसी तरह लाहौल-स्पीति विधानसभा सीट से डा. रामलाल मारकंडा, भोरंज सीट से डा. अनिल धीमान और चुराह से डा. हंसराज पीएचडी होल्डर हैं।

पार्टी ने अपने तीनो महामंत्रियों को इस बार चुनाव मैदान में उतारा है। इनमें सुंदरनगर के विधायक राकेश जम्वाल को फिर से टिकट मिला है, जबकि त्रिलोक जम्वाल पहली बार बिलासपुर सदर से और त्रिलोक कपूर पहली बार पालमपुर से चुनाव लड़ेंगे।
कश्यप ने कहा की कांग्रेस जहां पुराने चेहरों पर दाव लगा रहे है , और उनके कुनबे में कन्फ्यूजन बिखराव है , परिवार वाद बिलकुल हावी है ,वहीं भाजपा अपने सशक्त उम्मीदवारों और नेतृत्व के दम पर आगामी चुनाव में रिवाज बदल कर दुबारा हिमाचल में सत्ता पर काबिज हो कर जनता की सेवा करेगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here