शिमला से माहुंनाग फिर नहीं भेजी बस, लोग करते रहे इंतजार

0
287

करसोग। हिमाचल में मंडी के करसोग में विभिन्न रूटों पर बस न चलने से लोग काफी परेशान है। करसोग डिपो की शिमला से माहुंनाग बस गुरुवार को भी रूट पर नहीं भेजी गई। जिस कारण लोगों को मजबूरन प्राइवेट बसों में सफर करना पड़ा और सवारियां ग्रीन कार्ड, सम्मान कार्ड सहित महिलाएं एचआरटीसी की बसों में किराए में मिल रही 50 फीसदी छूट का भी लाभ नहीं उठा पाई।

लोगों को अधिक किराया चुकाकर मंजिल तक पहुंचना पड़ा। इस तरह ऐन मौके पर रूट कैंसिल होने से लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर है। जिस पर सरकार से उचित कार्रवाई किए जाने की मांग की है। बता दें कि प्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन स्थल माहुंनाग के लिए दिन के समय में शिमला से एक मात्र बस सेवा उपलब्ध है, लेकिन रूट रद्द होने से लोगों को बार बार दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। शिमला से माहुंनाग के लिए ये बस सुबह 11.25 पर चलती है।

करसोग की 5 पंचायतों कांडी सपनोट, मेहरन, घैनी शैथल, माहुंनाग व सरतेयोल के लिए ये एक मात्र सीधी बस सेवा है। रमेश कुमार का कहना है इससे पहले भी माहुंनाग रूट पर बस न भेजे जाने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा है। शिकायत करने पर हर बार बस खराब होने का तर्क दिया जाता है। बस अगर खराब होती है तो इसकी जगह पर शिमला से दूसरी बस भेजी जानी चाहिए ताकि सवारियों को परेशानियों का सामना न करना पड़े। उन्होंने परिवहन निगम से लोगों की इस समस्या पर गंभीरता से समाधान किए जाने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here