गांव के खिलाड़ियों को मिलेगा प्लेटफॉर्म खेलोइंड़िया के तहत खोले जा रहे केंद्र

0
37

शिमला। खेलो में रुचि रखने वालों के लिए अच्छी खबर है हिमाचल प्रदेश के दूर-दराज इलाकों में खेलो को बढ़ावा देने के लिए केंद्र खोले जा रहे हैं केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने निर्देश दिए हैं कि हिमाचल  के सभी जिलों में खेलो इंडिया के तहत सेंटर खोला जाए जिसमें जिले के उभरते हुए खिलाड़ियों को मौका दिया जाए यह जानकारी हिमाचल प्रदेश स्पोर्ट्स एंड यूथ सर्विसेज के निदेशक राजेश शर्मा ने दी उन्होंने  बताया कि प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्रयासरत है और भर्ती हो खिलाड़ियों को प्लेटफार्म मिल सके इसके लिए सभी जिलों में खेलो इंडिया के तहत सेंटर खोले जा रहे हैं उन्हें बताया कि स्कूलों कॉलेजों में भी खेलों को बढ़ावा देने के लिए समय-समय पर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है उसके लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं राजेश शर्मा सोमवार को विश्व खेल दिवस के अवसर पर राजधानी स्थित इंदिरा गांधी खेल परिसर में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे इस दौरान युवाओं में खेल के प्रति रुचि पैदा करने के लिए युवाओं को किस तरह से आगे  लाया जाए जिससे उनके शारीरिक और मानसिक विकास हो इस पर युवाओं को जानकारी दी उन्होंने कहा कि खेलों से जहां मानसिक और शारीरिक स्वस्थ रहता है युवा नशे से भी दूर रहते हैं राजेश ने बताया कि प्रदेश में विभिन्न सेंटर खोले जा रहे हैं वही सैनिकों में खाली पदों को भरने के लिए भी या या की जा रही है जिससे कि खिलाड़ियों को कोई परेशानी ना हो

स्पोर्ट्स डे पर अखिल खेल युवा एवं सेवाएं निदेशक राजेश शर्मा ने सोमवार को शिमला के इंदिरा गांधी खेल परिसर में खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में अनेक तरह की प्रतिभाएं हैं जिनको निखारने का प्रयास खेल विभाग कर रहा है। हमारे प्रदेश खिलाड़ी देश विदेश में अपना नाम कमा रहे हैं। हाल ही में इंग्लैंड में संपन्न हुई कॉमनवेल्थ गेम में हिमाचल के खिलाड़ियों ने बेहतर योगदान दिया और वहां से मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया। उन्होंने कहा कि हम भविष्य में कई तरह के खेल प्रतियोगिताएं आयोजित कर रहे हैं। जिसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को भी लिंक किया जाएगा। इससे जहां खिलाड़ी के प्रतिवाद निकलेगी वही तो देश में भी खेल को बढ़ावा मिलेगा। इस दौरान उन्होंने यहां पर खिलाड़ियों से भी मुलाकात की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here