सोलन में काग्रेस की रैली में जुटी भीड़, नही आए पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह

0
198

सोलन। हिमाचल प्रदेश के सोलन में नगर निगम में कांग्रेस की अंतिम चुनावी रैली में पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का कार्यक्रम रदद हो गया है। वीरभद्र सिंह की जगह उनके पुत्र एवं शिमला ग्रामीण से विधायक विक्रमादित्य सिंह ने रैली में भाग लिया। विक्रमादित्य ने कहा कि कोरोना के चलते डॉक्टरों ने पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह को रैली में आने की अनुमति नहीं दी। इसलिए वह कार्यक्रम में नहीं आ सके। उन्होंने कहा कि पिता को चिकित्सकों ने कोरोना के चलते भीड़भाड़ से दूर रहने की सलाह दी है। बता दें कांग्रेस ने पूर्व सीएम के नाम पर रैली में भीड़ जुटाई थी, लेकिन अंतिम समय पर वीरभद्र सिंह का कार्यक्रम रद्द हो गया। चार एमसी और तीन ब्लाकों में पंचायत प्रधान पद के लिए प्रस्तावित चुनाव के लिए प्रचार का आज अंतिम दिन है। शाम को प्रचार का शोर थम जाएगा। 
नगर निगम चुनाव में बढ़-चढ़कर हिस्सा लें लोग : वीरभद्र
वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने शिमला में जारी बयान में सोलन, मंडी, पालमपुर और धर्मशाला नगर निगम के मतदाताओं से अपील की है कि वे लोकतंत्र के इस पर्व में बढ़-चढ़कर भाग लें। लोकतंत्र में जनमत का सांविधानिक महत्व होता है। इस महत्व को कम नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा बिना किसी भेदभाव प्रदेश का समान विकास किया है। पूर्व कांग्रेस सरकार ने प्रदेश में जिस गति से विकास को बढ़ाया था, आज वह ठहर गया है। भाजपा की नीतियों और निर्णयों से आज हिमाचल का हर वर्ग दुखी है। बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी से आम लोगों के साथ युवा वर्ग में भी हताशा है। वैश्विक महामारी कोरोना ने देश और प्रदेश की अर्थव्यवस्था को अस्त-व्यस्त कर दिया है, वहीं सरकार किसी भी वर्ग को कोई भी राहत देने में विफल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here