उत्तराखंड सरकार ने पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर घोषित किया

0
238

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने राज्य के सभी पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर घोषित किया है. साथ ही सभी को कोरोना वैक्सीन दिये जाने की मंजूरी भी दी है. पत्रकारों के लिये उम्र की कोई सीमा नहीं रखी गई है. राज्य सरकार ने ये जानकारी दी. राज्य सरकार ने जारी किये गये बयान में कहा कि महामारी के खिलाफ पत्रकारों ने लोगों तक सही सूचनाएं पहुंचाई, साथ ही जागरुकता में अहम भूमिका भी अदा की.

राज्य सरकार ने की तारीफ

इसके अलावा राज्य सरकार ने कहा कि, देश में लॉकडाउन के प्रक्रिया चल रही थी, उस दौरान सूचना विभाग के अफसर व कर्मचारी लगातार जागरुकता के कार्यक्रम चला रहे थे, लोगों तक सटीक खबरें पहुंचा रहे थे.

संक्रमण के बढ़ते मामलों पर चिंता

वहीं, कोरोना संक्रमण के एक बार फिर बढ़ने से चिंताएं बढ़ती जा रही हैं. शुक्रवार को राज्य के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे टेस्टिंग और उपचार पर जोर दें. साथ ही ग्रामीण इलाके में कोरोना वैक्सीनेशन के कार्यक्रम को भी बढ़ाते रहे. समीक्षा बैक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि, उत्तराखंड के 100 फीसदी कोरोना वैक्सीनेशन कराने वाला राज्य बनाना है. इसदौरान उन्होंने कहा कि, संक्रमण के मामलों को रोकने के लिये प्रोटोकॉल का पालन कराना सुनिश्चित किया जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here