करसोग में मतदान केंद्रों के भौतिक सत्यापन के लिए नोडल अधिकारियों की तैनाती, तहसीलदार व नायब तहसीलदारों को सौंपी गई जिम्मेवारी, अगले कुछ दिनों में सौंपनी होगी रिपोर्ट

0
31

करसोग। करसोग विधानसभा क्षेत्र में मतदान केंद्रों के भौतिक सत्यापन के लिए नोडल अधिकारियों और बीएलओ सहित सूपरवाईजरों की तैनाती की गई है। जिन्हें अगले कुछ दिनों में अपनी रिपोर्ट निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एसडीएम को सौंपनी होगी। इसको लेकर मंगलवार को एसडीएम कार्यालय में एक बैठक आयोजित हुई।जिसकी अध्यक्षता निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एवं एसडीएम करसोग सुरेंद्र ठाकुर नें की। इस दौरान नोडल अधिकारी तहसीलदार राजेन्द्र ठाकुर, नायब तहसीलदार बगशाड़ उमा दत, नायब तहसीलदार पांगणा रूप लाल, निर्वाचन कानूनगो बलवंत चौहान व बीएलओ समेत सूपरवाईजर उपस्थित रहे। एसडीएम सुरेन्द्र ठाकुर नें बताया कि निर्वाचन विभाग नें आगामी विधान सभा निर्वाचन के लिए गतिविधियां शुरू कर दी हैं। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग ने विधान निर्वाचन से पूर्व फोटोयुक्त मतदाता सूचियों को त्रृटिरहित बनाने और मतदाताओं के शत-प्रतिशत पंजीकरण के लिए पुनरीक्षण का 12 अगस्त से 11 सितम्बर, 2022 तक के लिए शेड्यूल जारी कर दिया गया है। पुनरीक्षण से पूर्व भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदान केंद्रों के युक्तिकरण्, नये मतदान केंद्र खोलने और वर्तमान मतदान केंद्रों के भौतिक सत्यापन की प्रक्रिया चली है। उन्होनें कहा कि मतदान केंद्रों के भौतिक सत्यापन के लिये उप-मण्डल के तहसीलदार करसोग, नायब तहसीलदार करसोग, पांगणा व बगशाड़ को नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जो बीएलओ सूपरवाईजर के सहयोग से अगले कुछ दिनों में अपने क्षेत्राधिकार के मतदान केंद्रों में रैंप, बिजली, पानी, भवन की स्थिति सहित अन्य निर्धारित आवश्यक मूलभूत सुविधाओं और मानदण्डों का सत्यापन करेंगे। सुरेंद्र ठाकुर ने कहा कि वर्तमान में करसोग विधानसभा क्षेत्र में कुल 107 मतदान केंद्र हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here