रूस ने किया यूरोप के सबसे बड़े न्यूक्लियर प्लांट पर हमला

0
191

नई दिल्ली। रूस के हमलों के कारण शुक्रवार आज सुबह तड़के यूरोप के सबसे बड़े न्यूक्लियर पावर प्लांट जपोरीझिया (Zaporizhzhia) में आग लग गई। न्यूक्लियर पावर प्लांट धू धू कर जलने लगा।  यूक्रेन में फरवरी अंत से जारी रूसी हमलों के कारण वहां मौजूद लोग संकट से घिर गए हैं। इस क्रम में जंग के सातवें दिन उत्तरी यूक्रेन के चेर्निहीव में रूसी हमले के कारण 30 से अधिक मौतें दर्ज की गई हैं।
यूक्रेन में रूस की सैन्य कार्रवाई के कारण लगाए जा रहे प्रतिबंधों वाली लिस्ट बड़ी ही होती जा रही है। इस क्रम में अब विंटर ओलिंपिक्स में एथलीटों पर रोक लगा दी गई है। व्हाइट हाउस के अनुसार अमेरिका 19 अमीर कारोबारियों, उनके परिवार वालों और सहयोगियों के खिलाफ वीजा प्रतिबंध भी लगाएगा। इसके अलावा रूस में फेसबुक व अनेक मीडिया वेबसाइटों को खोलने में परेशानी आ रही है।
चेक गणराज्य (Czech Republic) भी यूक्रेन को सैन्य सहायता उपलब्ध कराएगा। इसमें हल्के हथियार भी शामिल होंगे। यहां के रक्षा मंत्रालय ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट पोस्ट कर यह जानकारी साझा की।
सुरक्षित कारिडोर से होगी निकासी
बता दें कि आज जंग के सातवें दिन उत्तरी यूक्रेन के चेर्निहीव में रूसी हमले के कारण 22 मौतें दर्ज की गई हैं। ऐसे में वहां मौजूद लोगों की सुरक्षित निकासी को लेकर कीव और मास्को ने  कारिडोर (Humanitarian Corridors) के निर्माण की सहमति दी है। दोनों देशों के बीच हुई दूसरे दौर की वार्ता में यह फैसला लिया गया है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार अब तक यूक्रेन से अपने घरों को छोड़ निकलने वाले लोगों का आंकड़ा एक मिलियन हो चुका है और जो देश में हैं वे राकेट और बमबारी का सामना कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here