करसोग में आयोजित जन मंच में हुआ 146 शिकायतों का निपटारा, लोगों ने 186 मांगे रखी

0
108


करसोग। करसोग में आयोजित 23वें जन मंच में कुल 146 जन शिकायतें प्राप्त हुई। जिनका जल शक्ति, बागवानी, राजस्व व सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने विभागीय अधिकारियों की मौजूदगी में मौके पर ही निपटारा कर दिया। इसके अलावा लोगों से कुल 186 मांगे भी प्राप्त हुईं जिन्हे आगामी निपटारे के लिए संबंधित विभागों को सौंप दिया गया। कुल शिकायतों में से प्री जनमंच में ही 76 शिकायतों का निपटारा कर दिया गया था, जबकि 70 शिकायतों का निपटारा जनमंच कार्यकर्म में किया गया । जनमंच कार्यक्रम में सबसे ज्यादा शिकायतें सड़कें पेयजल व कुलों को लेकर प्राप्त हुई। इस दौरान लोगो ने लोकनिर्माण विभाग की सुस्त कार्यप्रणाली पर शिकायत करते हुए कहा कि अधिकारी  सिर्फ कार्यालय से ही कार्य करते है मौके पर लोगो को गुमराह किया जाता है। यहां एक  शिकायतकर्ता के शिकायत पर करसोग कांडा शेन्धल सड़क को लेकर मंत्री ने 30 नवम्बर तक कार्य पूरा करने के आदेश दिए। ताकि इसका उद्घाटन किया जा सके। वही लोअर करसोग में कुल्ह में पिछले 15 वर्षों से पानी न पहुंचने की शिकायत पर मंत्री ने जलशक्ति विभाग से इस कार्य पर खर्च की गई धनराशि व ठेकेदार के नाम की लिस्ट तलब की है । इस मौके पर जल शक्ति मंत्री ने जनमंच में उपस्थित जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि जय राम ठाकुर के नेतृत्व में भजपा सरकार का लक्ष्य लोगो की समस्याओं का समाधान करना है। करसोग में मुख्यमंत्री के अपने विधानसभा क्षेत्र के मुख्य द्वार पर है इसलिए करसोग भी मुख्यमंत्री का ही क्षेत्र के तौर पर माना जाता है इसलिए यहां विकास कार्य प्राथमिकता के आधार पर होने चाहिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी सुनिश्चित करें जो मुख्यमंत्री ने करसोग क्षेत्र में जितनी भी घोषणाएं की है उनकी सूची बनाकर 10 दिनों के भीतर उपायुक्त मंडी को सौंपे, ताकि 2 माह के भीतर सभी घोषणाओ को धरातल पर लाया जा सके। 

  981 प्रमाणपत्र जारी किए गए:
प्री जनमंच की रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए एसडीएम करसोग सन्नी शर्मा ने बताया कि इस दौरान लाभान्वित 13  ग्राम पंचायतों में से कुल 59 जन शिकायतें प्राप्त हुईं। इसके साथ ही राजस्व विभाग से जुड़े विभिन्न तरह के 981 प्रमाणपत्र जारी किए गए व 145 म्यूटेशन अनुप्रमाणित की गईं। इस बीच 51 एफिडेविट, 65 आधार अपडेशेन, आठ निसानदेही तथा 378 विभिन्न तरह के फॉर्म को अनुप्रमाणित भी किया गया।एसडीएम ने बताया कि प्री जनमंच के दौरान ही 60 मृदा स्वास्थ्य कार्ड तथा 211 उद्यान कार्ड भी बनाए गए। पशुपालन विभाग के माध्यम से 142 पशुओं का पंजीकरण किया गया तथा 2 स्वास्थ्य शिविर भी लगाए। इसी दौरान विभिन्न विभागों के माध्यम से 37 साईट्स का भी निरीक्षण किया गया। इस बीच विभिन्न मांगे भी प्राप्त हुईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here