मुख्यमंत्री ने रामपुर विधानसभा क्षेत्र में 81 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किए

0
181

शिमला। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला शिमला के रामपुर लवी मैदान में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए ननखड़ी में लोक निर्माण विभाग मण्डल व खोलीघाट में लोक निर्माण विभाग का उप-मण्डल खोलने, ननखड़ी में अग्निशमन उप-केन्द्र खोलने तथा खनेरी अस्पताल में नए आधुनिक एक्स-रे संयंत्र प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय उच्च पाठशाला सनारसा को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने और रामपुर विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न सड़कों के निर्माण तथा रख-रखाव के लिए 60 लाख रुपये प्रदान करने की घोषणा भी की। उन्होंने रामपुर के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, रामपुर के प्रवेश स्थान पर भगवान परशुराम द्वार के निर्माण के लिए 10 लाख रुपये देने, क्षेत्र की चार नई सृजित पंचायतों में पंचायत घरों के निर्माण के लिए 11-11 लाख रुपये प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने समारोह में शामिल महिला मण्डलों को 15000-15000 रुपये देने की घोषणा भी की।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान राज्य सरकार द्वारा किए गए प्रयासों तथा उठाए गए कदमों की सराहना केन्द्र सरकार के अतिरिक्त देश की विभिन्न राज्य सरकारों ने भी की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने यह सुनश्चिित किया कि प्रदेश में कोरोना मरीजों को दवा, बिस्तर, आॅक्सीजन इत्यादि की कोई कमी न हो। उन्होंने चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ताओं द्वारा कोरोना महामारी से निपटने के लिए किए गए कार्य की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के आरम्भ में राज्य में केवल दो आॅक्सीजन संयंत्र उपलब्ध थे जबकि एक वर्ष के भीतर राज्य में 28 आॅक्सीजन संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के आरम्भ में राज्य में केवल 50 वेंटीलेटर उपलब्ध थे जबकि अब राज्य के विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में 800 पूर्ण कार्यशील वेंटीलेटर उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि आज देश में 15 लाख से अधिक पीपीई किट्स का निर्माण किया जा रहा हैं जबकि पूर्व में देश को इसके लिए अन्य देशों पर निर्भर रहना पड़ता था।


जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल व सशक्त नेतृत्व के कारण देश में सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान सुचारू रूप से चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने 18 वर्ष से अधिक की आयु के व्यक्तियों के शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य हासिल कर लिया है। उन्होंने कहा कि जिला कांगड़ा के दुर्गम क्षेत्र बड़ा भंगाल में हैलीकाॅप्टर की विशेष उड़ान द्वारा वैक्सीन पहंुचाई गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने विशेष रेल तथा बसों के माध्यम से देश के विभिन्न भागों में फंसे 2.50 लाख हिमाचलियों की सफल घर वापसी करवाई है, जिसके लिए राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री तथा केन्द्रीय गृह मंत्री से आग्रह किया था।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वह विनम्र पृष्ठभूमि से है और उनके परिवार से कोई भी सदस्य राजनीति में नहीं है तथा भविष्य में भी कोई नहीं होगा। उन्होंने कहा कि गरीब व्यक्तियों विकासात्मक जरूरतों को वह भली-भांति समझते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के वृद्धजनों ने वृद्धावस्था पेंशन को 1500 रुपये बढ़ाने तथा बिना किसी आय सीमा के आयु सीमा को 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष करने के लिए मुख्यमंत्री को व्यक्तिगत रूप से पत्र लिखा। महिलाओं के लिए इस आयु सीमा को 70 वर्ष से घटाकर 65 वर्ष किया गया है। उन्होंने गत साढ़े तीन वर्षों में राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की भी विस्तृत जानकारी दी।
पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके मन में पूर्व मुख्यमंत्री के लिए हमेशा से विशेष आदर रहा है और वीरभद्र सिंह के दिल में भी उनके प्रति विशेष पे्रमभाव था। उन्होंने कहा कि विभिन्न राजनीतिक विचारधाराएं होने के बावजूद वे एक-दूसरे का सम्मान करते थे। उन्होंने कहा कि आज उन्होंने शिमला जिला के रामपुर विधानसभा क्षेत्र में 81 करोड़ रुपये की लागत की 21 विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए, जिसके लिए वित्तीय प्रावधान वर्तमान सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने वर्तमान कार्यकाल के दौरान किसानों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से दूध के खरीद मूल्य में 7 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि की है।
जय राम ठाकुर ने इस अवसर पर 37.55 करोड़ रुपये की 8 विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इनमें 4.69 करोड़ की लागत से खराहन में बने आईटीआई भवन, 6 करोड़ की लागत से बने महात्मा गांधी इंजीनियरिंग काॅलेज कोटला के प्रशासनिक भवन, तकलेच में 3.11 करोड़ रुपये की लागत से बने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के बहुउद्देशीय हाॅल, रामपुर शहर के लिए 19.14 करोड़ की लागत से बनी जलापूर्ति योजना,  ग्राम पंचायत थैली चकटी में 53 लाख रुपये की लागत से बहाव सिंचाई योजना शिया रोपा के पुनः निर्माण व विस्तार कार्य, ग्राम पंचायत करांगला में 68 लाख रुपये की लागत से बनी बहाव सिंचाई योजना, ग्राम पंचायत भदवाली में 2.90 करोड़ की लागत से निर्मित नोगली खड्ड से मसरान, करेरी, कमलाऊ एवं थनोल उठाऊ सिंचाई योजना और ग्राम पंचायत दत्तनगर के भद्राश में 50 लाख रुपये की लागत से निर्मित गौशाला शामिल है।
मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत शोली के गांवों के समूह के लिए 8.26 करोड़ की बहाव जलापूर्ति योजना के संवर्धन और पुनर्निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत चंडी बरांडा में चंडी बरांडा के लिए 1.28 करोड़ रुपये की ग्रेविटी जलापर्ति योजना, ग्राम पंचायत शोली, खमाड़ी और कुंगलबाल्टी की विभिन्न बस्तियों के लिए 1.20 करोड़ रुपये की ग्रेविटी जलापर्ति योजना, तहसील ननखड़ी की ग्राम पंचायत मझोली टिप्पर, कलेडा मझेवटी की विभिन्न बस्तियों के लिए 2.25 करोड़ रुपये की ग्रेविटी जलापर्ति योजना, ग्राम पंचायत तकलेच में 2.20 करोड़ रुपये की सेरी मझाली जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत दरकाली में 1.11 करोड़ रुपये की जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत काशापाट में 86 लाख रुपये की कंडी पाट जलापूर्ति योजना, 25 लाख रुपये के ननखड़ी तहसील भवन, 2.97 करोड़ रुपये के उप तहसील भवन सराहन, 1.63 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली झिजनू से सरोग सड़क, 1.02 करोड़ से बनने वाले प्राथमिक स्वासथ्य केंद्र देलथ, 16.32 करोड़ रुपये की लागत से दतनगर में बनने वाले दुग्ध प्रसंस्करण संयंत्र और इंदिरा मार्केट रामपुर में नगर परिषद रामपुर की 4 करोड़ रुपये से बनने वाली बहुमंजिला कार पार्किंग के दूसरे चरण की आधारशिला रखी।    
इसके पश्चात, मुख्यमंत्री ने राजकीय केंद्रीय प्राइमरी स्कूल रामपुर में स्थापित टीकाकरण केंद्र का भी औचक निरीक्षण किया और डाॅक्टरों व अन्य कर्मचारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि 18 वर्ष से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति टीकाकरण के बिना न रहे।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपने एक दिवसीय दौरे के दौरान रामपुर विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण किए हंै। उन्होंने कहा कि दत्तनगर में 16.32 करोड़ रुपये के दुग्ध प्रसंस्करण संयंत्र के पूर्ण होने पर क्षेत्र के लोगों की आर्थिकी में बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में अनेक गौशालाएं और गौ-अभ्यारण्य राज्य सरकार ने स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत दत्तनगर के भद्रास में 50 लाख रुपये की लागत से गौशाला स्थापित की गई है।
सांसद एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि आज राज्य सरकार का नेतृत्व एक ईमानदार, मेहनती और गतिशील नेता जय राम ठाकुर कर रहे हैं, जो स्वयं एक विनम्र पृष्ठभूमि से होने के कारण आम आदमी की विकासात्मक आवश्यकताओं को भली-भांति समझते हैं।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की विकासात्मक नीतियों से हर हिमाचली के जीवन में बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि राज्य में हुए सभी चुनावों और उपचुनावों में प्रदेश के लोगों नेे भी मुख्यमंत्री को अपना पूरा समर्थन दिया है। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न विकासात्मक योजनाओं की भी जानकारी दी।
इस अवसर पर भाजपा मंडलाध्यक्ष भीमसेन ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य लोगों का स्वागत किया और क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा।
आनी के विधायक किशोरी लाल सागर, मिल्कफेड के अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा, एपीएमसी के अध्यक्ष नरेश शर्मा, पूर्व मंत्री सिंघी राम, क्षेत्र के भाजपा नेता बिहारी लाल, बृज लाल और केवल राम, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, पुलिस अधीक्षक डाॅ. मोनिका भटुंगरू सहित अन्य इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here