प्रथम डोज की शत प्रतिशत वैक्सीनेशन को प्रधानमंत्री 6 सितम्बर को करेंगे वर्चुअली संवाद

0
204

कुल्लू। हिमाचल प्रदेश, कोविड-19 वैक्सीन के प्रथम डोज की शत प्रतिशत वैक्सीनेशन करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। प्रधानमंत्री 6 सितम्बर, 2021 को प्रातः 11 बजे वैक्सीन के शत प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने के लिए वर्चुअली माध्यम से लोगों से जुड़ेगें तथा लोगों के साथ अपने विचारों को सांझा करेंगे।  इस दिन जिला के अटल सदन के भीतर, मनाली के राम बाग, पतलीकूहल, बंजार के अंबेडकर भवन, आनी तथा निरमंड में वड़ी-2 एलईडी सक्रीनें स्थापित जाएंगी जिसके माध्यम से लोग सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस वर्चुअली कार्यक्रम को देख तथा सुन सकेंगे। इस सम्बंध में तैयारियों को लेकर गत दिवस मुख्यमंत्री ने वीसी के माध्यम से हिमाचल प्रदेश के सभी उपायुक्तों तथा पुलिस अधीक्षकों के साथ विस्तार से चर्चा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
   उन्होंने कहा कि सभी उपायुक्त अपने-2 जिला में आगामी 6 सितम्बर को प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में विकास खंड स्तर पर उपयुक्त स्थानों का चयन कर तथा एलईडी सक्रीन स्थापित कर लोगों के लिए बैठने की उचित व्यवस्था करें ताकि लोग प्रधानमंत्री के इस वर्चुअल कार्यक्रम को बिना किसी समस्या के देख सकें। प्रधानमंत्री से संवाद के लिए 6 सितम्बर को उपायुक्त कार्यालय कुल्लू में वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहेंगे। कोविड-19 अभियान से जुड़े स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का कोविड-19 के दौरान कठिन परिस्थितियों में कई किलोमीटर पैदल चलकर लोगों के बीच पहुंचना, उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करना जैसे व्यक्तिगत अनुभवों को लेकर प्रधानमंत्री वर्चुअली माध्यम से संवाद करेंगे।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि यह देश का पहला कार्यक्रम है जिसमें प्रधानमंत्री हिमाचल प्रदेश के लोगों के साथ वर्चुअली माध्यम से जुड़कर संवाद करेंगे। वैक्सीनेशन अभियान से जुड़े स्वास्थ्य कार्यकर्ता जिसमेंपंचायती राज संस्थाओं, आशा वर्कर्ज, नर्सें, फिमेल हैल्थ वर्कर्ज, फार्मासिस्ट शामिल हैं, जिन्होंने लोगों को कोरोना से बचाव तथा वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया हैैं, उन्हें सम्बंधित विकास  खंड अधिकारयिों के कार्यालय में बुलाया जाएगा। हर विधानसभा क्षेत्र में कार्यक्रम को देखने के लिए ऐसे लोगों को विशेष तौर पर बुलाया जाएगा जिन्हें वैक्सीन लग चुकी है। प्रधानमंत्री  वैक्सीन लगा चुके लोगों से उनके वैक्सीन से पूर्व तथा वैक्सीन के बाद के व्यक्तिगत अनुभवों को लेकर संवाद करेंगे। शत प्रतिशत वैक्सीन डोज लगाने को लेकर भव्य कार्यक्रम होना चाहिए। कार्यक्रम के बेहतर ढंग से आयोजन को लेकर चयनित स्थलों पर लोगों के बैठने के लिए सभी प्रकार की उचित व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने उपायुक्त कुल्लू की मलांणा गांव में व्यक्तिगत रूप से जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने तथा छूटे हुए सभी लोगों को वैक्सीनेट करने को लेकर सराहना की।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री से संवाद करवाने के लिए उपायुक्त जिला के 5 से 6 लोगों को जिला मुख्यालय पर बुलाएंगे तथा उन्हें लाने व ले जाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित करेंगे। वैक्सीन की शून्य वेस्टेज को लेकर भी संवाद किया जाएगा। स्थानीय विधायक कार्यक्रम के दौरान अपने-अपने क्षेत्र में उपस्थित रहेंगे तथा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मदद करेंगे। बरसात के कारण कार्यक्रम में किसी प्रकार का व्यवधान न हो, इसके लिए हाॅल में कार्यक्रम को करने की व्यवस्था भी तैयार रखें। कार्यक्रम के दौरान कोविड उपयुक्त व्यवहार, उचित सामाजिक दूरी तथा फेस मास्क को सुनिश्चित किया जाए।
    सीएम के जिला कुल्लू के मलाणा गांव में वैक्सीनेशन को लेकर पूछने पर उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने कहा कि पहले मलाणा में घर-घर का सर्वे करवाया गया फिर वहां के पुजारी तथा कारदारों के साथ चर्चा कर मलाणा गांव में जो लोग वैक्सीन से छूटे थे, उन्हें प्रेरित एवं प्रोत्साहित कर वैक्सीनेट किया गया।
   इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त शिवम प्रताप सिंह तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुशील चन्द्र भी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here