जल जीवन मिशन के अंतर्गत जिला कुल्लू में 35 करोड़ 72 लाख खर्च

0
17

कुल्लू । भारत सरकार द्वारा देश के नागरिकों के लिए अनेकों जन कल्याणकारी योजनाएं चलाई गई हैं उनमें से एक योजना है-जल-जीवन-मिशन। जैसा कि नाम से ही प्रतीत होता है कि जल है तो जीवन है, जल है तो कल है। योजना का मुख्य उद्देश्य सभी लोगों को पर्याप्त मात्रा में शुद्ध पेयजल की सुविधा उपलब्ध करवाना है। इसी उद्देश्य से जल जीवन मिशन योजना की शुरूआत देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में 15 अगस्त, 2019 को की गई। योजना के तहत भारत सरकार द्वारा 3.60 लाख करोड़ बजट का प्रावधान किया गया है।


     बढ़ती जनसंख्या के साथ पानी की समस्या भी बढ़ती जा रही है। कई गांवों में लोगों को दूर तक पैदल चलकर पानी लाने के लिए जाना पड़ता है तथा परेशानियों का सामना करना पड़ता है। प्रत्येक घर में नल तथा उसमें जल हो इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए सरकार ने जल जीवन मिशन की शुरूआत की। इस मिशन के तहत जिन क्षेत्रों में पानी नही है वहां हर घर में पाईप लाईन के माध्यम से पानी पहुंचाया जाएगा। इस योजना को सरकार ने हर घर जल योजना का का नाम भी दिया है।
       जिला कुल्लू में जल जीवन मिशन के अंतर्गत जल शक्ति विभाग द्वारा तेजी के साथ काम किया जा रहा है तथा योजना के अंतर्गत अब तक 35 करोड़ 72 लाख रूपए व्यय कर 76 हजार 795 घरों में नल लगाकर 64.46 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया गया है। वर्ष, 2019 में जल जीवन मिशन की शुरूआत से पहले जिला कुल्लू में केवल 35 हजार 486 घरों में ही नल लगे थे। इसके बाद विभाग द्वारा योजना के तहत काम शुरू किया गया तथा वितीय वर्ष 2019-20 के दौरान 31 मार्च, 2020 तक जिला में मिशन मोड पर 15 हजार 425 घरों में नल लगाए गए। जिला की सभी 235 पंचायतों में 1 लाख 19 हजार 131 घरों में नल कनेक्शन प्रदान किए जा रहे हैं। इसके साथ ही योजना के तहत जिला में पेयजल की 143 नई योजनाएं भी स्वीकृत की गई है तथा मिशन के तहत इन सब पर कुल मिलाकर लगभग 215 करोड़ रूपए व्यय किया जा रहा है।
     इसी प्रकार योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2020-21 के दौरान जिला में 21 हजार 16 घरों में नलों की स्थापना की गई। वर्तमान वित वर्ष 2021-22 के दौरान विभाग द्वारा जिला कुल्लू में शेष बचे 24 हजार 862 घरों मं नल लगाने का लक्ष्य रखा गया है तथा अभी तक जिला में 4 हजार 913 घरों में नल लगाए जा चुके हैं।  विभाग द्वारा वर्ष 2022 में जुलाई माह तक योजना के तहत हर घर को नल लगा कर शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल कर लिया जाएगा।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here