तीसरी लहर को लेकर जिला प्रशासन सख्त, रिज से हटाए जाएंगे सभी बैंच, बुजुर्गों को नहीं होगी मनाही

0
623

शिमला। कोरोना की तीसरी लहर को लेकर जिला प्रशासन ने सख्त हो गया है, जिसके चलते कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में अब रिज और मालरोड पर लगे बैंचों पर लोग नहीं बैठ पाएंगे। जिला उपायुक्त आदित्य नेगी ने शनिवार को आदेश जारी करते हुए बताया कि रिज और मालरोड पर अब पर्यटक सहित स्थानीय लोगों को बैठने की मनाही होगी। इसके साथ ही इन स्थानों से कुछ बैंचों को भी हटा दिया जाएगा। जिससे कि लोगों की भीड़ न लग सके। हालांकि कुछ बैंचों को बुजुर्गों के लिए रखा जाएगा, जिससे कि उन्हें परेशानी न आए। गौर रहे कि शिमला में इन दिनों हजारों की संख्या में पर्यटक पहुंच रहे हैं। ऐसे में रोजाना रिज मालरोड पर लोगों की भीड़ देखी जा सकती है। इसके साथ ही पर्यटकों द्वारा पुलिस जवानों से भी बहस की जाती है, जिसको लेकर अब कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जिन पर्यटकों द्वारा मास्क नहीं पहने जा रहे, ऐसे लोगों को पहले पुलिस टीम लोगों को जागरूक करेगी तो वहीं उसके बाद भी नियमों का पालन न करने वालों पर कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जिससे कि कोरोना की तीसरी लहर में कोरोना के रूके हुए मामलों में बढ़ौतरी न हो सके। गौर रहे कि यह फैसला जिला उपायुक्त ने व्यापार मंडल, होटल एसोसिएशन बस व टैक्सी ऑपरेटर्स एसोसिएशन एवं विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान लिया। इस दौरान पर्यटकों की आमद को देखते हुए कुछ एक स्थानों पर भीड़ भाड़ को नियंत्रित करने के लिए स्टेकहोल्डर के साथ चर्चा हुई।रिज मालरोड पर सिमित संख्या में प्रवेश की अनुमतिउपायुक्त ने बताया कि शिमला के रिज तथा मॉल में पर्यटकों एवं स्थानीय लोगों को सीमित संख्या में ही अब प्रवेश करने की अनुमति मिलेगी। जिससे कि ज्यादा भीड़ यहां न लग सके। इसके लिए रिज और मॉल के प्रवेश रास्ते पर पुलिस तैनात होगी, जो कि लोगों को जागरूक करेंगे। साथ ही पुलिस कर्मियों भीड़ भाड़ से निकलने का आग्रह करेंगे। भीड़ भाड़ को नियंत्रित करने के लिए शिमला के अन्य स्थानों पर भी इसी तरह के कदम उठाए जाएंगे। उसके बाद भी यदि नियमों का पालन नहीं होता तो कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।होटलों कर्मचारियों की हर महीने होगी कोविड जांच, लिस्टटूरिज्म तथा व्यापार मंडल से जुड़े कर्मचारियों की मासिक आधार पर सैंपलिंग की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि इसकी सूची समिति द्वारा प्रशासन को दी जाए। इसके साथ ही होटल व दुकानों के कर्मचारियों की वैक्सीनेशन की स्थिति पर चर्चा हुई। उपायुक्त ने बताया कि इस क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों को वैक्सीनेशन के लिए प्राथमिकता दी जाएगी। इसकी भी सूची समिति को प्रशासन को देनी होगी, जिसके बाद उन्हें वैक्सिनेट किया जाएगा।लोगों को जागरूक करने के लिए लगेंगे बैनर्स और स्टीकर्सउपायुक्त ने बताया कि होटल एसोसिएशन तथा व्यापार मंडल द्वारा लोगों को जागरूक करने के लिए बैनर्स तथा स्टीकर्स लगाए जाएंगे। उन्होंने कोविड की रोकथाम के लिए विभागीय अधिकारियों से अन्य आवश्यक कार्यवाही लाने के भी निर्देश दिए। इन आदेशों को जल्द ही लागू किया जाएगा, ताकि  तीसरी लहर से बचे। उन्होंने व्यापार मंडल, होटल एसोसिएशन एवं टैक्सी ऑपरेटर्स को प्रशासन के साथ समन्वय स्थापित करने की अपील की।यह रहे उपस्थितबैठक में अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी कानून एवं व्यवस्था राहुल चौहान, उपमंडलाधिकारी शिमला ग्रामीण मनजीत शर्मा, जिला पर्यटन अधिकारी जीडी कालटा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर सुरेखा चोपड़ा, प्रधान व्यापार मंडल इंद्रजीत सिंह, होटल एसोसिएशन प्रधान संजय सूद व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here