सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां,शनिवार रात 12 बजे से जुटना शुरू हो गई थी भीड़

0
224

1300 लोग पहुंचे घर,सरकार का किया अभिवादन

लॉकडाउन के चलते चंडीगढ़ में फंसे हुए लोगों को घर लाने की प्रशासन की व्यवस्था में बड़ी लापरवाही सामने आई है। प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों के तहत चंडीगढ़ के 28 सेक्टर स्तिथ हिमाचल भवन में घर जाने वालों की बड़ी संख्या में भीड़ इक्कट्ठा हो गई, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती नजर आई। पुलिस प्रशासन को भीड़ नियंत्रित करने के लिए सख्ती करनी पड़ी।
कोरोना महामारी के चलते सभी राज्यों में बड़ी संख्या में लोग फंसे हुए हैं। गृहमंत्रालय से अनुमति मिलने के बाद सभी राज्य सरकारें आपसी समन्वय से अपने प्रदेश के लोगों की घर वापसी की व्यवस्था कर रही है । हिमाचल सरकार भी अपने लोगों को उनके घर पहुंचाने में प्रयासरत है। दूसरे राज्यों से लोगों को लाने के लिए समय सारणी तैयार की गई है। इसी व्यवस्था के तहत चंडीगढ़ से रविवार सुबह 6 बजे कांगड़ा, चंबा ,ऊना और हमीरपुर जिले के लोगों को घर लाने की व्यवस्था प्रशासन ने की थी। यह व्यवस्था चंडीगढ़ के 28 सेक्टर में स्तिथ हिमाचल भवन से की गई थी जिस कारण बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी ऐसे में प्रशासन को सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने में खूब जद्दोजहद करनी पड़ी। शनिवार रात 12 बजे से ही लोग हिमाचल भवन जुटना शुरू हो गए थे। कुछ लोग ऐसे भी थे जो लगभग 12 से 15 किलोमीटर की लंबी दूरी तय कर पहुंचे थे। सीट पाने और जल्द से जल्द घर पहुंचने की चाह से लोगों की भीड़ बढ़ती गई।

प्रशासन लगातार लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने और संक्रमण से बचने की अपील करता रहा।बढ़ती भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस दल को सख्ती करनी पड़ी। वहीं दूसरी तरफ भी कुछ लोग इस व्यवस्था को लेकर असंतुष्ट दिखे। उनका कहना है कि लोगों को घर पहुंचाने के सरकार और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के निर्णय का स्वागत करते हैं पर व्यवस्था में चूक हुई है इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। घर जाने के लिए आए लोगों
में से एक व्यक्ति ने कहा कि सरकार का लोगों को घर पहुंचाने का काम निश्चित तौर से सराहनीय है पर सरकार को एक जगह डेस्टिनेशन बनाने की जगह अलग-अलग जगहI से लोगों को ले जाने की व्यवस्था की जानी चाहिए थी। सरकार एक ओर तो लोगों को भीड़ न जुटाने का आग्रह कर रही है दूसरी ओर स्वयं ही नियमों का पालन नहीं कर रही है। ऐसे में कोरोना संक्रमण की संभावना को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

1300 लोग पहुंचे घर,सरकार का किया अभिवादन..

रविवार को 1300 लोगों को चंडीगढ़ से उनके घर पहुंचाया गया है। लोग अपने घर पहुंच कर जहां एक ओर खुश है वहीं उनके परिवार वालों ने भी राहत की सांस ली है। लोगों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के प्रति आभार जताया है। घर पहुंचने वाले अनिल ने tm news hub के माध्यम से सरकार का अभिवादन किया है। उन्होंने सरकार के प्रयासों का आभार जताते हुए कहा कि उन्हें कोरोना संकट के चलते परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था और कोरोना ग्रसित होने का डर भी बना हुआ था पर आज घर पहुंच कर उन्हें राहत मिली है।

हालांकि अभी भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो घर नहीं पहुंच पाए हैं। सरकार इन लोगों को भी घर लाने का प्रयास कर रही है। गौरतलब है कि सोमवार को बिलासपुर, कुल्लू,मंडी और लाहौल स्पीति के लिए बसें चलाई जाएंगी। ऐसे में फिर से एक ही जगह भीड़ जुटने से ग्रीन जोन में आया प्रदेश कहीं कोरोना की चपेट में न आ जाए इसीलिए प्रशासन और जनता को सतर्कता बरतनी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here